मार्क जुकरबर्ग को ब्रिटिश संसदीय समिति के समक्ष पेश होने का फरमान

ब्रिटेन की एक संसदीय समिति ने मंगलवार को फेसबुक प्रमुख मार्क जुकरबर्ग को पेश होने और चुनाव प्रचार के लिए करोड़ों लोगों का विवरण निकालने के दावों पर ब्योरा देने को कहा। हाउस ऑफ कॉमंस की डिजीटल, संस्कृति, मीडिया और खेल समिति के अध्यक्ष डेमियन कोलिंस ने जुकरबर्ग को पत्र लिखकर उनसे इस पर अपना बयान देने को कहा है।

जिनपिंग को फोन कर पीएम मोदी ने दी बधाई, मजबूत संबंधों पर दिया जोर

समिति द्वारा फर्जी खबरों की जारी जांच के तहत यह अनुरोध किया गया था। इसके तहत पिछले महीने इसके सदस्यों को फेसबुक और ट्विटर के अधिकारियों से पूछताछ के लिए वाशिंगटन की यात्रा करते देखा गया था। इससे पहले यह आरोप लगाया गया था कि पांच करोड़ फेसबुक यूजर्स का ब्योरा एक ब्रिटिश कंपनी कैंब्रिज एनालिटिका ने 2016 में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के चुनाव प्रचार में इस्तेमाल के लिए हासिल किए थे। कोलिंस ने लिखा है कि ब्रिटेन के “गार्जियन” और “द न्यूयार्क टाइम्स” में पिछले कुछ दिनों में खबरें प्रकाशित होने के बाद समिति आपसे अनुरोध करती है कि आप मौखिक बयान देने के लिए इसके समक्ष उपस्थित हों।

You may also like

चीन का कर्ज बढ़कर 2,580 अरब डॉलर हुआ

चीन का बढ़ता कर्ज अब 2,580 अरब डॉलर