पहले से कहीं ज्यादा गहराया मालदीव संकट, सेना ने सभी सांसदों को फेंका बाहर

मालदीव में पिछले 12 दिनों से जारी राजनीतिक संकट और गहरा गया है। सेना ने संसद में मौजूद हर सांसद को उठा कर बाहर फेंक दिया। मालदीवियन डेमोक्रेटिक पार्टी (एमडीपी) ने भी सांसदों को बाहर फेंके जाने से संबंधित तस्वीरें और वीडियो ट्विटर पर पोस्ट किए हैं। उधर, बढ़ती राजनीतिक अस्थिरता को देखते हुए रोजाना सैकड़ों पर्यटक मालदीव में होटल बुकिंग रद्द कराने लगे हैं जिससे देश पर आर्थिक संकट भी मंडराने लगा है। हालांकि सरकार उन्हें आश्वस्त करने की कोशिश में जुटी हुई है कि राजधानी से दूर रिसोर्ट आइलैंड पर चीजें जल्द सामान्य हो जाएंगी।

पहले से कहीं ज्यादा गहराया मालदीव संकट, सेना ने सभी सांसदों को फेंका बाहर एमडीपी के महासचिव अनस अब्दुल सत्तार ने ट्वीट किया है कि सेना ने सांसदों को मजलिस परिसर से बाहर फेंक दिया। चीफ जस्टिल अबदुल्ला सईद सच सामने ला रहे थे। उन्हें भी उनके चैंबर से घसीट कर ले जाया गया, पार्टी इसकी घोर निंदा करती है। मंगलवार को सेना ने संसद को चारों ओर से घेर लिया था और सांसदों को संसद में घुसने नहीं दिया था। मालदीव के मौजूदा राष्ट्रपति अब्दुल्ला यामीन ने देश में इमरजेंसी का एलान कर रखा है।

सुप्रीम कोर्ट के शीर्ष जजों को राष्ट्रपति ने बर्खास्त किया था मालदीव में जारी राजनीतिक संकट की शुरुआत राष्ट्रपति अबदुल्ला यामीन और न्यायपालिका के बीच टकराव के बाद शुरू हुआ था। राष्ट्रपति ने सुप्रीम कोर्ट के शीर्ष जजों को बर्खास्त कर दिया था। इसके बाद मालदीव में विपक्षी दलों के नेताओं को भी गिरफ्तार कर लिया गया था।

You may also like

यूनाइटेड नेशन्स (UN) की बैठक में भाग लेने के लिए न्यूयोर्क शहर पहुँची सुषमा स्वराज

भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर