मैग्जीन टाइम ने 2020 पर लगाया रेड क्रॉस, लिखा- अब तक का सबसे खराब साल

दुनिया की सबसे प्रतिष्ठित मैग्जीन टाइम ने दिसंबर 2020 के अंक के कवर पेज पर किसी बड़ी हस्ती की फोटो ना लगाकर 2020 को रेड क्रॉस के साथ दर्शाया है। मैग्जीन ने उसके नीचे लिखा है कि ‘द वर्स्ट ईयर एवर’  यानी अब तक सबसे खराब साल। इससे पहले भी मैग्जीन चार बार ऐसे रेड क्रॉस का निशान लगाकर कवर पेज जारी कर चुकी है।

इसके अलावा अमेरिकी राजनीति में बड़े बदलाव को लेकर अमेरिका के प्रेसिडेंट इलेक्ट जो बाइडेन और वाइस प्रेसिडेंट इलेक्ट कमला हैरिस को मैग्जीन ने पर्सन ऑफ द इयर के सम्मान से नवाजा है। टाइम मैग्जीन ने दोनों को अपने कवर फोटो पर जगह दी है और लिखा है कि बदलते अमेरिका की कहानी।

इस साल पर्सन ऑफ द ईयर की रेस में अमेरिकी फिजिशियन डॉक्टर एंथनी फौसी, रेसियल जस्टिस मूवमेंट और डोनाल्ड ट्रंप भी थे। बता दें कि 1927 से टाइम मैग्जीन पर्सन ऑफ द ईयर चुनती आ रही है। लेकिन सबसे ज्यादा आकर्षित करने वाली बात इसका कवर पेज है, जिस पर 2020 लिखकर उस पर बड़े लाल निशान से क्रॉस लगाया है।

कब-कब लगाया, इससे पहले रेड क्राॅस
इससे पहले 1975 में पहली बार जर्मनी के तानाशाह एडॉल्फ हिटलर की मौत को चिन्हित करने के लिए मैग्जीन ने रेड क्रॉस का इस्तेमाल किया था। इसके बाद इराक युद्ध की शुरुआत में मैग्जीन ने रेड क्रॉस का इस्तेमाल किया था। वहीं 2006 में अमेरिकी सेना की ओर से इराक में अलकायदा के आतंकवादी अबू मौसम अल जरकावी की हत्या के बाद इसी निशान का इस्तेमाल किया गया था।

चौथी बार कुख्यात आतंकवादी ओसामा बिन लादेन की हत्या के बाद मैग्जीन के कवर पेज पर इसी रेड क्रॉस का इस्तेमाल किया गया था। इसके अलावा टाइम मैग्जीन ने बिजनेस पर्सन ऑफ द ईयर के तौर पर जूम एप के सीईओ एरिक यूआन को चुना। वहीं एंटरटेनर ऑफ द ईयर के लिए कोरियाई बैंड बीटीएस को चुना गया।

 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

13 − one =

Back to top button