लुधियाना नगर निगम चुनाव नतीजे- बीजेपी-अकाली काफी पीछे, कांग्रेस को 58 वार्ड में बढ़त

  • कांग्रेस के मनधीर सिंह वार्ड 54 में जीते.

     
  • कांग्रेस के नवनीत सिंह वार्ड 20 में जीते.

     
  • कांग्रेस के हरजिंदर पाल वार्ड 10 में जीते.

     
  • अकाली दल के तनवीर धालीवाल वार्ड 70 में जीते

     
  • बीजेपी के जसपाल चौधरी की वार्ड 8 में जीत.

     
  • कांग्रेस की पिंकी बंसल की वार्ड 53 में जीत.

     
  • बीजेपी मनिंदर कौर घुम्मन वार्ड 77 में चुनाव जीतीं.

     
  • कांग्रेस कुलवंत कौर वार्ड 88 में चुनाव जीतीं. कुलवंत की जीत का अंतर 500 वोटों का रहा.

    चिदंबरम बोले- वित्त मंत्री जेटली हुए फ्लॉप, अगर मैं होता तो इस्तीफा दे देता

     
  • कांग्रेस के जयप्रकाश की वार्ड 90 में जीत. बीजेपी के सुरिंदर अटवाल वार्ड 84 में जीते.

     
  • कांग्रेस की कला नवकर वार्ड 58 में जीतीं.

     
  • कांग्रेस की राशि अग्रवाल वार्ड 81 में जीतीं.

    • कांग्रेस की राशि अग्रवाल वार्ड 81 में जीतीं.

       
    • कांग्रेस के राजू थापड़ वार्ड 83 से जीते.

       
    •  
      बीजेपी के अन्नी सिक्का वार्ड 79 में जीते.
       
    •  

      कांग्रेस की गुरदीप नीतू की वार्ड 52 में जीत.

       लुधियाना नगर निगम चुनाव: वॉर्ड न. 58 से कांग्रेस के नवकर काला जीते.
       

      कांग्रेस उम्मीदवार श्यामसुंदर मल्होत्रा की वार्ड नंबर 56 में 790 वोटों से जीत.
       

      10 बजकर 50 मिनट पर अपडेटः कांग्रेस- 58, बीजेपी-अकाली- 22, एलआईपी-आप- 13, अन्य- 2

      कांग्रेस ने 58 सीटों पर दमदार बढ़त बना ली है. वहीं बीजेपी 11 वार्ड में जबकि अकाली दल 10 वार्ड में आगे चल रही है.

       

      पंजाब में लुधियाना नगर निगम के लिए 24 फरवरी को हुई वोटिंग के नतीजे आज आ रहे है. शुरुआती नतीजे ही कांग्रेस को खुश कर देने वाले हैं. कांग्रेस ने 58 सीटों पर दमदार बढ़त बना ली है. वहीं बीजेपी 11 वार्ड में जबकि अकाली दल 10 वार्ड में आगे चल रही है.

    लुधियाना नगर निगम के लिए 59.08 प्रतिशत मतदान हुआ था. निगर निगम चुनाव के दौरान मतदान शांतिपूर्ण चल रहा था, पर मतदान खत्म होने से ऐन पहले बीआरएस नगर स्थित एक बूथ में अकालियों और कांग्रेसियों के बीच टकराव से स्थिति तनावपूर्ण बन गई थी.

    बता दें कि नगर निगम की 95 सीटों पर कुल 494 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं. मुख्य मुकाबला सत्तारूढ़ कांग्रेस, शिरोमणि अकाली दल-भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) गठबंधन और आम आदमी पार्टी-लोक इंसाफ पार्टी के गठबंधन के बीच है. लुधियाना में 10.5 लाख से अधिक मतदाता हैं. मतदान के लिए 1,153 मतदान केंद्रों की स्थापना की गई है.

    इस चुनाव में प्रमुख मुद्दे जल आपूर्ति, स्वच्छता की कमी, प्रदूषण, खराब सड़कें और खस्ताहाल बुनियादी ढांचा थे. पिछले साल सूबे की सत्ता में आई कांग्रेस को विश्वास है कि वह इन चुनावों में भी अच्छा प्रदर्शन करेगी.

सम्बंधित समाचार

You may also like

सड़क पर चलना हो जाएगा महंगा, पेट्रोल के बाद 14% तक चढ़ सकते हैं CNG के दाम!

सड़क पर चलने वालों के लिए बुरी खबर है.