लड़कियों को बेहद आती हैं ये 10 खूबसूरत जगह, सुरक्षा पर नहीं संदेह

इस भागदौड़-भरी ज़िंदगी में हर किसी की चाहत होती है कि वह अपने लिए कुछ फ़ुर्सत के पल निकाले और अपना समय सिर्फ़ अपने साथ व्यतीत करें। इस क्रम में इन सुकून भरे पलों के लिए सोलो ट्रैवलिंग यानी अकेले यात्रा पर निकल जाने से बेहतर भला क्या हो सकता है! ये यात्राएं ख़ुद को एक नए तरीक़े से जानने-समझने का मौक़ा देती हैं।

शायद, इसीलिए हम सब यात्राएं करना चाहते हैं, लेकिन अकेले यात्रा करना लड़कियों के लिए आसान नहीं होता है। कभी सही जानकारी के अभाव में तो कभी सुरक्षा के ख़तरे की वजह से उनके क़दम रुक जाते हैं। हालांकि भारत में कई ऐसी जगहें हैं जहां पर लड़कियां अकेले और बड़े आराम से घूम सकती हैं।

1. कसोल (हिमाचल प्रदेश)

कसोल हिमाचल प्रदेश के सबसे अच्छे पर्यटन स्थलों में से एक है। इसकी ख़ूबसूरती के कारण इस गांव को ‘लिटिल ग्रीस’ की संज्ञा दी गई है। पार्वती नदी के तट पर बसा यह गांव अकेली घूमने वाली लड़कियों की पहली पसंद है। यहां के ग्रामीणों का व्यवहार काफ़ी अच्छा होता है और इस वजह से लड़कियों को अपनी सुरक्षा को लेकर किसी तरह का संदेह भी नहीं रहता है। स्थानीय लोग अतिथियों का आदर-सत्कार करना अच्छी तरह से जानते हैं। प्रकृति से प्यार करने वालों के लिए यह गांव जन्नत से कम नहीं है। इस जगह की प्राकृतिक सुन्दरता पर्यटकों को सहज ही अपनी और आकर्षित करती है। पार्वती नदी का ख़ूबसूरत किनारा यात्रियों को रुकने पर विवश करता है। यहां ट्रेकिंग करना एक अनोखा अनुभव दे सकता है।

2. औपनिवेशिक भव्यता का शहर पुड्डुचेरी (दक्षिण भारत)

बंगाल की खाड़ी के किनारे बसे इस जगह को कुछ लोग सुकून देने के लिए जानते हैं तो कुछ फ्रांसीसी उपनिवेश के रूप में याद करते हैं। हालांकि, दक्षिण भारत में बसा यह राज्य इन दोनों का एक मिलाजुला रूप है। इस जगह पर पूरी तरह से फ़्रांस की छवि दिखाई देती है। यहां घूमते हुए आपको सड़कों व समुद्री तटों पर फ्रेंच में लिखे बोर्ड आज भी मिल जाएंगे। किसी समय में इस जगह पर फ्रांसीसी वास्तुशिल्प अपने चरम पर थी। इसे वंडरलैंड की संज्ञा भी प्राप्त है। यहां स्थित विरासत टाउन हॉल सबसे शानदार स्थलों में से एक है। औपनिवेशिक इमारतों, चर्चों और मूर्तियों से पटा पुड्डुचेरी यहां आने वाले सैलानियों का मनमोह लेता है। यहां के समुद्र तटों पर सैर और फ़ोटोग्राफ़ी लड़कियों को ख़ूब भाता है।

3. सौंदर्य से परिपूर्ण स्वर्ग समान स्थल मुन्नार (केरल)

मुन्नार केरल के इडुक्की ज़िले में स्थित एक हिल स्टेशन है। इस जगह पर तमिलनाडु और केरल इन दोनों ही राज्यों से होकर पहुंचा जा सकता है। यह शहर लड़कियों के घूमने के काफ़ी अनुकूल है। मट्टुपेट्टी झील के किनारे बैठकर आप प्रकृति का आनंद ले सकते हैं। बोटिंग भी कर सकते हैं। गर्मी की छुट्टियों में यह स्थान औपनिवेशिक काल के दौरान ब्रिटिशर्स के सबसे पसंदीदा रिसॉर्ट में से एक था। प्राकृतिक सुन्दरता, आस-पास फैली हरियाली, साफ़-सुथरी हवा और शांतिपूर्ण जलवायु पर्यटकों का मन मोह लेती है। यह जगह एडवेंचर लवर्स और ट्रैकर्स को भी ख़ूब आकर्षित करती है।

4. भारत में चाय का स्वर्ग दार्जिलिंग (पश्चिम बंगाल)

दार्जिलिंग घूमने की इच्छा हर किसी के दिल में होती है। अपनी प्राकृतिक सुंदरता और चाय के बाग़ानों के लिए प्रसिद्ध यह शहर लड़कियों के लिए सुरक्षित माना जाता है। इस जगह पर आकर लड़कियां अपने तरीक़े से अपनी घुमक्क्ड़ी को एन्जॉय करती हैं। दार्जिलिंग दो तिब्बती शब्दों दोर्ज (बज्र) और लिंग (स्थान) से मिलकर बना है। ब्रिटिश शासन काल में ब्रिटिशर्स यहां पर गर्मी के मौसम में राहत पाने के लिए आते थे। दार्जिलिंग की सबसे ख़ास बात यह है कि यहां से कंचनजंगा पर्वत श्रृंखला भी देख सकते हैं। टाइगर हिल और वैली टी गार्डन देखना भी सैलानियों को रोमांचित करता है।

5. पहाड़ियों और पेड़ों की नगरी कूर्ग (कर्नाटक)

कर्नाटक राज्य में स्थित कूर्ग को यहां की आम भाषा में कोडगु कहते हैं। कूर्ग को भारत का स्कॉटलैंड और कर्नाटक का कश्मीर कहा जाता है। कुर्ग पूरे देश के मशहूर टूरिस्ट डेस्टिनेशन्स में से एक है और यहां आने वाले सैलानियों के आवभगत के लिए जाना जाता है। यह उन बेहतरीन जगहों में से एक है जहां पर लड़कियां ख़ूब जाना पसंद करती हैं। पहाड़ियों के बीच बसे इस जगह पर लड़कियां ट्रैकिंग, फ़िशिंग और राफ़्टिंग के लिए आती हैं। कम आबादी वाला यह क्षेत्र काफ़ी शांत रहता है।

6. मंदिरों और सफ़ेद रेत का शहर गोकर्ण (कर्नाटक)

कर्नाटक की ख़ूबसूरत जगहों में शामिल गोकर्ण शहर एक मोहक पर्यटन स्थल है। यह अपने विशाल समुद्र तट और मंदिरों के लिए जाना जाता है। यह जगह घुमक्कड़ी लड़कियों के लिए काफ़ी सुरक्षित मानी जाती है और इस वजह से हर साल देश-विदेश से लाखों की संख्या में लड़कियां घूमने आती हैं। गोकर्ण में हर कुछ यात्री मोक्ष की इच्छा लिए आते हैं। यह जगह काफ़ी शांत और सुरम्य भी है, जो यहां आने वाले सैलानियों के अंदर सुकून भरने का काम करती है। नीला समुद्र और सफ़ेद रेत गोकर्ण को और भी आकर्षक बनाती है। गोकर्ण को ताड़ के पेड़ों की भूमि की उपाधि से भी नवाजा गया है।

7. ख़ूबसूरती से सजा विहंगम द्वीप माजुली द्वीप (असम)

असम में स्थित माजुली द्वीप को महिला यात्रियों के लिए काफ़ी सुरक्षित माना जाता है। दुनिया का सबसे बड़ा नदी द्वीप चारों तरफ़ से ब्रह्मपुत्र नदी से घिरा हुआ है। पानी से घिरे होने के कारण इसकी ख़ूबसूरती देखते ही बनती है। इस जगह को यूनोस्को विश्व धरोहर घोषित कर चुका है। माजुली में पूरे साल कोई ना कोई त्यौहार मनाया जाता है। ज़्यादातर पर्यटक इस जगह पर इन्हीं त्यौहारों के लिए आते हैं। हालांकि यह द्वीप दिनोंदिन तेज़ी से सिकुड़ता जा रहा है और जानकारों का मानना है कि ऐसा ही रहा तो वह दिन दूर नहीं जब यह बचेगा ही नहीं।

8. शांति का पाठ पढ़ाता कोलवा बीच (दक्षिणी गोवा)

गोवा में घूमने-टहलने की जगहों की कोई कमी नहीं है। गोवा का समुद्री किनारा पूरी दुनिया में प्रसिद्ध हैं, हालांकि दक्षिणी गोवा का कोलवा तट गोवा के अन्य तटों की अपेक्षाकृत कम भीड़भाड़ वाला और सुरक्षित माना जाता है। शांति की चाह रखने वालों के लिए कोलवा बीच किसी जन्नत से कम नहीं है। लड़कियों की पसंदीदा जगहों में से एक है, जहां वे बेफ़िक्र होकर घूम सकती हैं।

9. प्रकृति की गोद में समाई घाटी ज़ीरो घाटी (अरुणाचल प्रदेश)

अरुणाचल प्रदेश घूमना लगभग हर घुमक्कड़ का सपना होता है। वहां की विविधतापूर्ण संस्कृति पर्यटकों को ख़ूब भाती है। वहां पर जितनी जगहें हैं उतने ही ख़ूबसूरती के आयाम भी हैं। उन्हीं में से एक है ज़ीरो घाटी। ज़ीरो घाटी को लोग शांति के उपासकों का शहर कहते हैं। इस जगह पर कुछ ऐसी जनजातियां रहती हैं, जो देश के किसी अन्य हिस्से में नहीं पाई जाती हैं। ज़ीरो घाटी में कई तरह के संगीत पर्व होते हैं, जो लोगों के आकर्षण का केंद्र बनते हैं।

10. धरती पर स्वर्ग का नजारा ज़ांस्कर घाटी (लेह)

साल के नौ महीने बर्फ़ से ढंकी रहने वाली ज़ांस्कर घाटी कारगिल ज़िले में लद्दाख से सौ किलोमीटर दूर स्थित है। इस जगह पर आकर ऐसा लगता है कि हम दुनिया के सबसे ख़ूबसूरत कोने में आ गए हैं। बर्फ़ से ढके पहाड़, स्वच्छ नदियों से सजी ज़ांस्कर घाटी में फैली सुंदरता सैलानियों को मंत्रमुग्ध कर देती है। यह घाटी भारत की ख़ूबसूरत जगहों में से एक है। पर्यटक इस स्थान पर राफ़्टिंग और ट्रेकिंग का आनंद लेने के लिए आते हैं। इस सुन्दर क्षेत्र में अकेले घूमने का मज़ा ही कुछ अलग होता है।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button