लोंगेवाला: यंहा पढ़ें प्रधानमंत्री के भाषण की ये खास बातें…

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जवानों के बीच दिवाली मनाने जैसलमेर के लोंगेवाला पहुंचे. पीएम मोदी ने जवानों के बीच पहुंचकर 130 करोड़ देशवासियों की तरफ से उन्हें दिवाली की बधाई दी. साथ ही जवानों का उत्साह भी बढ़ाया. पीएम मोदी ने कहा कि आप भले बर्फीली पहाड़ी पर रहें या फिर रेगिस्तान में, मेरी दिवाली आपके बीच आकर पूरी होती है.

इसके साथ ही पीएम मोदी ने लोंगेवाला से पड़ोसी पाकिस्तान और चीन को सख्त संदेश भी दिया. पीएम मोदी ने लोंगेवाला पोस्ट की शौर्य गाथा का उल्लेख करते हुए कहा कि देश की किसी पोस्ट का नाम अगर किसी को याद है तो वो लोंगेवाला पोस्ट है. लोंगेवाला की विषम परिस्थितियों का जिक्र करते हुए पीएम ने कहा कि यहां गर्मियों में तापमान 50 डिग्री को छूता है और सर्दियों मे शून्य के नीचे चला जाता है. इसके बावजूद इस पोस्ट पर आपके साथियों ने शौर्य की ऐसी गाथा लिख दी है, जो लोगों को याद है. जब भी सैन्य कुशलता के इतिहास के बारे में लिखा-पढ़ा जाएगा, तब बैटल और लोंगेवाला को याद किया जाएगा.

पीएम ने 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध का जिक्र करते हुए कहा कि इसके 50 साल पूरे होने जा रहे हैं. हम मनाने वाले हैं, इसलिए आने का मन कर गया. उन्होंने युद्ध के समय के हालात का जिक्र करते हुए कहा कि ये वो समय था, जब पाकिस्तान की सेना बांग्लादेश की जनता पर जुल्म कर रही थी. इन हरकतों से पाकिस्तान का घृणित चेहरा उजागर हो रहा था. इन सबसे दुनिया का ध्यान हटाने के लिए पाकिस्तान ने हमारे देश की पश्चिमी सीमा पर मोर्चा खोल दिया. उनको लगता था कि ऐसा करके बांग्लादेश के पाप छिपा लेंगे, लेकिन पाकिस्तान को लेने के देने पड़ गए. इस पोस्ट पर पराक्रम की गूंज ने दुश्मन का हौसला पस्त कर दिया.

घर में घुसकर मारता है भारत

पीएम ने मेजर कुलदीप सिंह चांदपुर के नेतृत्व और सेना के शौर्य की भी तारीफ की. उन्होंने कहा कि इस लड़ाई ने दिखाया कि भारत की संगठित सैन्य शक्ति के सामने कोई भी आ जाए, किसी भी सूरत में टिक नहीं पाएगा. आपके इसी शौर्य को नमन करते हुए भारतवासी मजबूती से खड़े हैं. भारत आज सुरक्षित है, क्योंकि भारत के पास सुरक्षा करने लिए आप जैसे बेटे-बेटियां हैं. जब भी जरूरत पड़ी, भारत ने दिखाया है कि उसके पास ताकत भी है और राजनैतिक इच्छा भी है. आज भारत आतंकियों को घर में घुस कर मारता है. पीएम ने साथ ही यह भी साफ कर दिया कि आतंकवाद को लेकर भारत किसी कीमत पर समझौता नहीं करेगा.

विस्तारवाद एक मानसिक विकृति

पीएम मोदी ने कहा कि आज दुनिया यह जान रही है कि भारत अपने हितों से रत्तीभर समझौता करने वाला नहीं है. भारत का ये रुतबा, ये कद आपके पराक्रम के कारण है. भारत वैश्विक मंचों पर प्रखरता से बात रखता है. नाम लिए बिना चीन पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आज पूरा विश्व विस्तारवादी ताकतों से परेशान है. विस्तारवाद एक तरह से मानसिक विकृति है. यह 18वीं शताब्दी की सोच है. उन्होंने कहा कि भारत इसके खिलाफ आवाज बन रहा है. आज भारत की रणनीति साफ है. आज का भारत समझने और समझाने की नीति पर विश्वास करता है. चीन को सख्त संदेश देते हुए पीएम ने कहा कि अगर हमें आजमाने की कोशिश की तो जवाब भी उतना ही प्रचंड मिलेगा.

देश में विश्वास पैदा करता है आपका त्याग

पीएम मोदी ने जवानों की हौसला अफजाई करते हुए कहा कि सीमा पर रहकर आप जो त्याग और तपस्या करते हैं, वो देश में एक विश्वास पैदा करता है. ये विश्वास होता है कि मिलकर बड़ी से बड़ी चुनौती का मुकाबला किया जा सकता है. उन्होंने कहा कि आपसे मिली इसी प्रेरणा से देश महामारी के इस कठिन समय में अपने हर नागरिक के जीवन की रक्षा में जुटा हुआ है. इतने महीने से देश अपने 80 करोड़ नागरिकों के भोजन की व्यवस्था कर रहा है. साथ ही अर्थव्यवस्था को वापस गति देने का भी पूरे हौंसले से प्रयास कर रहा है.

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button