फिल्म ‘पाकीजा’ से सुर्खियां बटोरने वाली वयोवृद्ध बॉलीवुड अभिनेत्री गीता कपूर का शनिवार की सुबह एक वृद्धाश्रम में निधन हो गया. उनके परिवार के एक मित्र ने यह जानकारी दी. गीता कपूर 67 वर्ष की थी और पिछले साल से वृद्धाश्रम में रह रही थी. पिछले वर्ष उनके बेटे एवं बेटी ने कथित तौर पर उन्हें घर से निकाल दिया था.'पाकीजा' की इस एक्ट्रेस की जिंदगी बच्चों के इंतजार में हुई खत्म, वृद्धाश्रम में हुआ निधन

उनके निधन के बाद फिल्म निर्माता अशोक पंडित ने ट्वीट किया, “दुखद है कि अपने बच्चों को आखिरी बार देखने की उम्मीद में गीता कपूर का देहांत हो गया.” गीता कपूर ने 100 से भी अधिक फिल्मों में काम किया जिसमें ‘पाकीजा’ एवं ‘रजिया सुल्तान’ जैसी फिल्में भी शामिल है. अपने बच्चों द्वारा घर से निकाले जाने के बाद फिल्म निर्माता रमेश तौरानी एवं पंडित उनकी दवाओं का खर्च उठाते थे. कपूर के बेटे राजा पेशे से एक कोरियोग्राफर और उनकी बेटी एयर होस्टेस है.

कुणाल कपूर की Nobleman का टीजर हुआ रिलीज

कपूर को उनके बच्चे मई 2017 में गोरेगांव के एसआरवी अस्पताल में छोड़कर चले गए थे जिसके बाद, तौरानी एवं पंडित ने उन्हें अंधेरी पश्चिम के जीवन आशा वृद्धाश्रम में रखा. उन्होंने अपने बेटे पर बुरा बर्ताव करने एवं नियमित रूप से भोजन न देने का आरोप भी लगाया था. गीता कपूर का सोमवार को अंतिम संस्कार होगा. इससे पहले, उनके शव को कूपर अस्पताल में रखा गया.