चीन में शी के नेतृत्व में आज से नई सरकार की शुरुआत

चीन में राष्ट्रपति शी जिनपिंग के लिए दो बार के कार्यकाल की सीमा समाप्त करने के बाद आज से नयी सरकार की शुरुआत हो सकती है. माओ के बाद के शी पहले नेता हैं जिनके लिए कार्यकाल सीमा की बाध्यता हटा दी गई है. प्रधानमंत्री ली क्विंग को छोड़कर पूरे कैबिनेट और केंद्रीय बैंक के गवर्नर सहित सभी शीर्ष पद पर नये अधिकारी कमान संभालेंगे

सबकी निगाहें उपराष्ट्रपति पद के उम्मीदवार पर होगी क्योंकि रबर स्टांप संसद नेशनल पीपुल्स कांग्रेस (एनपीसी) ने राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति के लिए दो बार कार्यकाल की बाध्यता समाप्त कर दी है. संशोधन के बाद 64 साल शी आजीवन सत्ता में बने रह सकेंगे लेकिन उनकी निकट सहयोगी वांग काइशान उनकी शक्ति को और बढ़ा सकते हैं.

दरअसल वांग ने पिछले पांच सालों में सशक्त तरीके से भ्रष्टाचार निरोधक अभियान चलाया जिसमें सौ मंत्री स्तरीय अधिकारियों सहित पांच लाख से ज्यादा लोगों को सज़ा दी गई है. वांग को पद छोड़ना होगा क्योंकि वो 68 साल से ज्यादा के हो गए हैं जो चीन में सभी शीर्ष अधिकारियों के लिए रिटायरमेंट की उम्र की सीमा है. लेकिन एक पहलू ये भी है कि उन्हें उपराष्ट्रपति भी बनाया जा सकता है.

You may also like

भारत ने रोहिंग्याओं के लिए बांग्लादेश को राहत सामग्री प्रदान की

भारत ने हिंसा के कारण म्यामांर छोड़कर बांग्लादेश में शरणार्थी