बिहार के नतीजों से लालू यादव को लगा बड़ा झटका, डॉक्टर बोले- सुबह से हैं…

बिहार विधानसभा चुनाव के परिणामों ने राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की चिंता बढ़ा दी हैं. लालू प्रसाद लगातार टीवी पर अपनी नजरें गड़ाए हुए हैं. एग्जिट पोल के उलट महागठबंधन के विरुद्ध गए चुनाव परिणाम से लालू यादव काफी मायूस हैं. महागठबंधन को चुनाव में बहुमत से 12 सीटें कम यानी 110 सीटें मिली हैं.

Ujjawal Prabhat Android App Download

लालू यादव के डॉ. उमेश प्रसाद का कहना है कि लालू प्रसाद आज सुबह के बाद से काफी मायूस और चिंतित हैं, जो कही ना कही बिहार चुनावों में महागठबंधन के पिछड़ने का ही असर है. गौरतलब है कि चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव इन दिनों रांची के रिम्स के केली बंगले में इलाजरत हैं.

बीते चार दिनों में दूसरी बार लालू प्रसाद यादव को बड़ा झटका लगा है. इससे पहले लालू यादव की जमानत अर्जी को कोर्ट ने 27 नवंबर तक टाल दिया. लालू को उम्मीद थी कि 6 नवंबर को जमानत मिल जाती और वो जेल से बाहर आ जाते. लालू को देवघर और चाईबासा ट्रेजरी केस में पहले से जमानत मिल चुकी है.

बताया जा रहा है कि लालू यादव की हालत गंभीर है. उनकी किडनी सही से काम नहीं कर रही है. अगर यही हालत रहे तो  उन्हें डायलिसिस की जरूरत होगी. बिहार में मिली हार से लालू यादव इतने निराश थे कि उन्होंने जेल आईजी की पूर्व अनुमति के साथ आने वाले आगंतुक से मिलने से इनकार कर दिया.

1 केली बंगला से निकले डॉ. उमेश प्रसाद ने कहा कि लालू यादव काफी निराश हैं. वह लगातार टीवी देख रहे थे. महागठबंधन की हार ने उनकी चिंताएं बढ़ा दी हैं.

बिहार विधानसभा चुनाव के परिणामों ने राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की चिंता बढ़ा दी हैं. लालू प्रसाद लगातार टीवी पर अपनी नजरें गड़ाए हुए हैं. एग्जिट पोल के उलट महागठबंधन के विरुद्ध गए चुनाव परिणाम से लालू यादव काफी मायूस हैं. महागठबंधन को चुनाव में बहुमत से 12 सीटें कम यानी 110 सीटें मिली हैं.

लालू यादव के डॉ. उमेश प्रसाद का कहना है कि लालू प्रसाद आज सुबह के बाद से काफी मायूस और चिंतित हैं, जो कही ना कही बिहार चुनावों में महागठबंधन के पिछड़ने का ही असर है. गौरतलब है कि चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव इन दिनों रांची के रिम्स के केली बंगले में इलाजरत हैं.

बीते चार दिनों में दूसरी बार लालू प्रसाद यादव को बड़ा झटका लगा है. इससे पहले लालू यादव की जमानत अर्जी को कोर्ट ने 27 नवंबर तक टाल दिया. लालू को उम्मीद थी कि 6 नवंबर को जमानत मिल जाती और वो जेल से बाहर आ जाते. लालू को देवघर और चाईबासा ट्रेजरी केस में पहले से जमानत मिल चुकी है.

बताया जा रहा है कि लालू यादव की हालत गंभीर है. उनकी किडनी सही से काम नहीं कर रही है. अगर यही हालत रहे तो  उन्हें डायलिसिस की जरूरत होगी. बिहार में मिली हार से लालू यादव इतने निराश थे कि उन्होंने जेल आईजी की पूर्व अनुमति के साथ आने वाले आगंतुक से मिलने से इनकार कर दिया.

1 केली बंगला से निकले डॉ. उमेश प्रसाद ने कहा कि लालू यादव काफी निराश हैं. वह लगातार टीवी देख रहे थे. महागठबंधन की हार ने उनकी चिंताएं बढ़ा दी हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button