लखीमपुर खीरी हिंसा :किसानों की अंतिम अरदास में प्रियंका गांधी हुई शामिल, मंच की जगह आम लोगों के साथ बैठीं

लखीमपुर खीरी हिंसा में मारे गए चार किसानों व एक पत्रकार को श्रद्धांजलि देने के लिए तिकुनिया में आज अंतिम अरदास चल रही है। अरदास में लोगों की भारी भीड़ उमड़ी है। कई जिलों और दिल्ली, पंजाब और हरियाणा से किसान अभी भी लखीमपुर अरदास में शामिल होने के लिए पहुंच रहे हैं। राकेश टिकैत और कांंग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी भी अरदास में शामिल हुईं। वहीं अंतिम अरदास और अस्थि कलश यात्रा को लेकर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। इसके लिए पर्याप्त पुलिस फोर्स लगाए गए हैं। पीएसी, पैरामिलिट्री, आरएएफ और एसएसबी को भी शहर से लेकर तिकुनिया तक मुस्तैद किया गया है। ड्रोन कैमरों से निगरानी रहेगी।

-बरेली एयरपोर्ट पर रोके गए रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी को भी छोड़ दिया गया है। कुछ देर में वह भी अरदास में शामिल होंगे।

-प्रियंका गांधी करीब 55 मिनट तक अरदास में बैठीं और फिर लौट गईं। 

-किसानों की अंतिम अरदास में शामिल प्रियंका गांधी शामिल हुईं। प्रियंका गांधी मंच की जगह आम लोगों के बीच बैठीं। किसान नेताओं ने पहले ही घोषणा की थी कि मंच पर कोई सियासी नेता नहीं बैठेगा। 

-राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल कल लखीमपुर खीरी हिंसा को लेकर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात करेगा। कांग्रेस ने राष्ट्रपति कार्यालय से समय मांगा था, जिसे मंजूर कर लिया गया है।

-बाराबंकी में किसान नेताओं को किया हाउस अरेस्ट किया, लखीमपुर खीरी घटना में मारे गए किसानों व पत्रकार को श्रद्धांजलि देने जा रहे किसान नेताओं को किया नजरबंद।

– सीतापुर टोल पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं को रोका गया, उन्हें वापस कर दिया गया।

– सड़कों पर लगे पोस्टर नहीं चाहिए सहानभूति, पोस्टर में लिखा सिक्खों के नरसंहार के जिम्मेदारों से सहानभूति नहीं चाहिए

-कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी लखीमपुर पहुंच चुकी हैं। प्रियंका लखीमपुर के तिकुनिया में मारे गए किसानों की अंतिम अरदास में शामिल होंगी। प्रियंका गांधी के साथ अजय कुमार लल्लू भी लखीमपुर पहुंचे हैं।

-लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा को तीन दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है। वरिष्ठ अभियोजन अधिकारी एसपी यादव ने बताया कि 15 अक्टूबर की सुबह रिमांड खत्म हो जाएगा।

-राष्ट्रीय लोकदल के नेता जयंत चौधरी को बरेली एयरपोर्ट पर ही रोक लिया गया है। जयंत, अरदास कार्यक्रम में शामिल होने के लिए लखीमपुर जाने के लिए एयरपोर्ट पहुंचे थे।

– अंतिम अरदास में शामिल होने के लिए जुट रही भारी भीड़, बढ़ाई गई सुरक्षा व्यवस्था 

-प्रियंका गांधी भी इसमें शामिल होने के लिए लखीमपुर खीरी पहुंच रही हैं। हालांकि भारतीय किसान यूनियन (टिकैत) के पदाधिकारी के अनुसार, किसी भी राजनीतिक दल के राजनेता को मंगलवार की अंतिम प्रार्थना में किसान नेताओं के साथ मंच साझा करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। वहां केवल संयुक्त किसान मोर्चा के नेता मौजूद रहेंगे।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2 × three =

Back to top button