महिला अधिकारी की कथित रूप से हत्या करने वाला व्यक्ति मथुरा में गिरफ्तार

- in राष्ट्रीय

अतिक्रमण रोधी अभियान का नेतृत्व कर रही एक महिला अधिकारी की कथित रूप से हत्या करने वाले व्यक्ति को आज मथुरा-वृंदावन इलाके से गिरफ्तार किया गया. वह वहां वेश बदलकर छिपा हुआ था.

पुलिस ने बताया कि हिमाचल प्रदेश और दिल्ली पुलिस के कर्मियों की एक टीम ने आरोपी विजय सिंह को गिरफ्तार कर लिया. उसने वेश बदलने के लिए मूंछ काट ली थी और बाल भी काट लिये थे. वह मंदिर के बाहर बैठा हुआ मिला.

पुलिस के अनुसार, सिंह ने मंगलवार को सहायक नगर योजनाकार शैलबाला शर्मा की गोली मारकर हत्या कर दी थी. पुलिस ने उसकी गिरफ्तारी में सहायक सूचना देने वाले को एक लाख रुपये का इनाम देने की घोषणा की थी.

पुलिस महानिदेशक सीता राम मर्दी ने शिमला में कहा, सिंह को ट्रांजिट रिमांड पर हिमाचल प्रदेश लाया जाएगा. पुलिस उससे पूछताछ करेगी और अधिकारी की हत्या में प्रयुक्त हथियार बरामद करने का प्रयास करेगी.

सोलन के पुलिस अधीक्षक मोहित चावला ने बताया कि सिंह गिरफ्तारी से बचने के लिए लगातार अपना ठिकाना बदल रहा था. चावला ने कहा, वह मथुरा रिफाइनरी और बांके बिहारी मंदिर के पास भी रूका था.

आरोपी विजय कुमार को पकड़ने के लिए हिमाचल पुलिस ने दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच से संपर्क किया, क्योंकि विजय कुमार की लोकेशन दिल्ली की आ रही थी, आरोपी विजय लगातार फोन से अपने एक परिचित से बात कर रहा था, और हिमाचल पुलिस उसके फोन को ट्रेस कर रही थी, बुधवार को विजय कुमार दिल्ली में था, लेकिन उसकी लोकेशन एक बार फिर बदल गई, वो भाग कर मथुरा आ गया.

190 करोड़ में तैयार हुई ईशा अंबानी, देख कर फटी की फटी रह जाएँगी आप की आँखे !

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच और हिमाचल पुलिस लगातार उसका पीछा कर रही थी, बुधवार रात को विजय कुमार की लोकेशन मथुरा रिफाइनरी के पास थी, उसके बाद उसका फोन बंद हो गया, पुलिस को लगा कि वो हाथ से निकल गया, लेकिन गुरुवार को उसका फोन फिर से ऑन हुआ और उसकी लोकेशन थी वृंदावन, दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच और हिमाचल पुलिस ने जाल बिछाया और विजय कुमार को वृंदावन से गिरफ्तार कर लिया.

सिंह ने अवैध ढांचे गिराने के अभियान का नेतृत्व कर रही पीड़िता पर गोली चलायी और फरार हो गया था. घटना के बाद हिमाचल प्रदेश के अधिकारियों की काफी आलोचना हुई और उच्चतम न्यायालय ने उन्हें फटकार भी लगायी.

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने कहा कि वह शाम को वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक में हालात का जायजा लेंगे. प्रदेश सरकार उच्चतम न्यायालय और राष्ट्रीय हरित पंचाट के आदेश का पूर्ण रूप से पालन करेगी.

मंगलवार को सोलन जिले में हुई इस घटना के बाद प्रदेश सरकार ने गुरुवार को पुलिस अधीक्षक मोहित चावला और पुलिस उपाधीक्षक ( परवानू ) रोमेश शर्मा का तबादला कर दिया.

अगले आदेश तक अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक डॉक्टर शिव कुमार को जिला पुलिस प्रमुख का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है.

सरकार ने घटना में मारी गयी अधिकारी शैलबाला शर्मा को ‘हिमाचल गौरव पुरस्कार ’ देने की भी घोषणा की है. साथ ही सरकार ने शैलबाला के निकटतम परिजन को उनकी बकाया सेवा वर्षों तक पूरा वेतन देने का फैसला लिया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस ने अब भी मायावती से लगा रखी है गठबंधन आस

कांग्रेस एक ओर मान रही है कि छत्तीसगढ़