जानिए इन दो कारों में कौन सी हैं सबसे दमदार कार, यंहा जानें पूरी डिटेल

हुंडई ने आज अपनी नई आने वाली एसयूवी Alcazar से पर्दा उठा दिया है। इस नई एसयूवी की लॉन्च की घोषणा के साथ ही बाजार में पहले से मौजूद Tata Safari से इसकी तुलना शुरू हो चुकी है। दोनों ही एसयूवी 6-सीटर और 7-सीटर लेआउट के साथ बाजार में एक दूसरे के सामने मौजूद होंगी। लेकिन इनमें काफी अंतर भी है जो देनों SUV को एक दूसरे से अलग बनाती हैं। तो आइये जानते हैं इन दोनों में से कौन है बेहतर एसयूवी- 


इंजन क्षमता: 

Hyundai Alcazar पेट्रोल और डीजल दोनों इंजन विकल्पों के साथ बाजार में उपलब्ध होगी। इसके पेट्रोल वर्जन में कंपनी ने 2.0 लीटर की क्षमता का 4 सिलिंडर युक्त पेट्रोल इंजन दिया है जो कि 159hp की पावर और 192Nm का टॉर्क जेनरेट करता है। वहीं इसके डीजल वर्जन में 1.5 लीटर की क्षमता का 4 सिलिंडर युक्त टर्बोचार्ज इंजन दिया गया है जो कि 115hp की पावर और 250Nm का टॉर्क जेनरेट करता है। ये दोनों इंजन 6 स्पीड मैनुअल और ऑटोमेटिक ट्रांसमिशन गियरबॉक्स दिया गया है। 

Tata Safari में कंपनी 2.0 लीटर की क्षमता का दमदार Kryotec टर्बो डीजल इंजन का प्रयोग किया है, जो कि 170hp की पावर जेनरेट करता है। इसमें 6 स्पीड मैनुअल ट्रांसमिशन और 6 स्पीड टॉर्क कन्वर्टर ऑटोमेटिक गियरबॉक्स दिया गया है। कंपनी भविष्य में इसे फोर व्हील ड्राइव सिस्टम के साथ भी बाजार में लांच कर सकती है। इससे साफ है पावर के मामले में टाटा सफारी ज्यादा दमदार है, हालांकि सफारी केवल डीजल इंजन के विकल्प के साथ ही बाजार में उपलब्ध है।   


डिजाइन और व्हीलबेस:  

Hyundai Alcazar को भी उसी प्लेटफॉर्म तैयार किया गया है जिस पर क्रेटा का निर्माण किया गया है। हालांकि कंपनी ने इसे 2,760mm लंबा व्हीलबेस दिया है, जो कि क्रेटा से तकरीबन 150mm ज्यादा है। वहीं टाटा सफारी को अवार्ड विनिंग IMPACT 2.0 डिजाइन लैंग्वेज और Omega ऑर्किटेक्चर पर तैयार किया गया है, इसमें कंपनी ने 2,741mm का व्हीलबेस दिया है। इस लिहाज से व्हीलबेस के मामले में हुंडई अलकज़ार कहीं बेहतर है, जो कि केबिन के भीतर ज्यादा स्पेस प्रदान करने में मदद करता है। 

गियरबॉक्स और ड्राइविंग मोड्स: 

Alcazar में इंजन इस्तेमाल किया जा रहा है वो 6 स्पीड मैनुअल और ऑटोमेटिक ट्रांसमिशन गियरबॉक्स के साथ आता है। इसमें तीन ड्राइविंग मोड्स दिए गए हैं जिसमें इको, सिटी और स्पोर्ट शामिल हैं। वहीं Safari में भी कंपनी ने 6 स्पीड मैनुअल और टॉर्क कन्वर्टर ऑटोमेटिक गियरबॉक्स का इस्तेमाल किया है, इसमें भी ऐसे ही तीन ड्राइविंग मोड्स इको, सिटी और स्पोर्ट दिए गए हैं। 


फीचर्स: 

Alcazar  के केबिन में 10.25 इंच का ट्चस्क्रिन इंफोटेंमेंट सिस्टम दिया गया है जिसे एंड्रॉयड ऑटो और एप्पल कार प्ले से कनेक्ट किया जा सकता है। इसके अलावा हुंडई की पारंपरिक कनेक्टिविटी टेक्नोलॉजी, पैनारोमिक सनरूफ, ISOFIX सीट माउंट्स, वायरलेस फोन चार्जिंग, ऑटोमेटिक क्लाइमेट कंट्रोल जैसे कुछ खास फीचर्स इसके केबिन को और भी आकर्षक बनाते हैं। 

वहीं Tata Safari में सिग्नेचर स्टाइल ओक ब्राउन डुअल टोन डैशबोर्ड के साथ 8.8 इंच का फ्लोटिंग इंफोटेंमेंट सिस्टम, 7 इंच का इंस्ट्रूमेंट पैनल, JBL के दमदार स्पीकर, पैनारोमिक सनरूफ जैसे फीसर्च दिए गए हैं। अन्य फीचर्स के तौर पर इसमें अलग-अलग वैरिएंट्स में एम्बीएंट लाइटिंग, जेनॉन HID प्रोजेक्टर हेडलैंप, USB चार्जर, सब वूफर, इलेक्ट्रॉनिक पार्किंग ब्रेक्स, ऑटोमेटिक व्हीकल होल्ड, तीन अलग अलग टेरॉन मोड्स (नॉर्मल, वेट और रफ रोड), मल्टी फंक्शन स्टीयरिंग व्हील, ऑटोमेटिक AC, सेमी डिजिटल इंस्ट्रमेंट कंसोल जैसे फीचर्स दिए गए हैं। 


कीमत और माइलेज:

हालांकि Alcazar के लॉन्च से पहले इसकी कीमत के बारे में कुछ भी कह पाना मुश्किल है, लेकिन ये साफ है कि साइज में बड़ी और नए फीचर्स से लैस होने के नाते ये एसयूवी मौजूदा क्रेटा मॉडल से महंगी होगी। वहीं टाटा सफारी की कीमत 14.69 लाख रुपये से लेकर 21.45 लाख रुपये के बीच है। अभी अल्काजार के माइलेज के बारे में अभी कोई जानकारी साझा नहीं की गई है, लेकिन टाटा सफारी का मैनुअल वेरिएंट 16.14 किलोमीटर प्रतिलीटर और ऑटोमेटिक वेरिएंट 14.08 किलोमीटर प्रतिलीटर तक का माइलेज देती है। 

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button