जानिए सिर के सफेद बाल उखाड़ना सही है या गलत, जानें पीछे की सच्चाई

- in हेल्थ

आमतौर पर सफेद बालों को बुढ़ापे की निशानी माना जाता है लेकिन कुछ कारणों का वजह से युवाओं के बाल भी पकने लगते हैं. बालों का असमय सफेद हो जाना किसी को भी निराश कर सकता है.कई बार लोग सफेद बालों को छुपाने के लिए इन्हें उखाड़कर अलग करने लगते हैं. लेकिन माना जाता है कि सफेद बाल उखाड़ने से और बाल सफेद होते हैं. आइए जानते हैं क्या  है सच…

जानिए सिर के सफेद बाल उखाड़ना सही है या गलत, जानें पीछे की सच्चाई

 

 आमतौर पर जैसे-जैसे हमारी उम्र बढ़ती है, बालों के रंग देने वाली पिगमेंट कोशिकाएं नष्ट होने लगती हैं. पिगमेंट सेल कम होने से बालों की जड़ों में कम मेलानिन जाने लगता है और बाल सफेद या ग्रे होने लगते हैं. लेकिन क्या सफेद बाल उखाड़ना सही है?

अपने बच्चों के लिए बनाये टेस्टी पेस्तो पास्ता विथ चिकन

 कई लोग सफेद बाल उखाड़ने से इसलिए डरते हैं क्योंकि उन्हें ये लगता है कि एक सफेद या ग्रे बाल उखाड़ने पर वैसे तीन चार हो जाएंगे. जबकि ये एक मिथक से ज्यादा कुछ नहीं है. एक फॉलिकल के साथ कुछ होने पर, उसके पास के दूसरे फॉलिकल पर असर नहीं पड़ता. एक सफेद बाल निकालने से और ज्यादा सफेद बाल नहीं होते.

 हालांकि ये कहा जाता है कि ये अच्छी आदत नहीं है क्योंकि बाल जड़ से उखाड़ने में कई बार आप त्वचा से नीचे फॉलिकल को नुकसान पहुंचा देते हैं जिससे आगे बाल उगने में समस्या होती है. इसलिए ऐसे बालों को उखाड़ने से बेहतर है कि आप उन्हें कलर कर लें, या फिर ऐसे ही छोड़ दें.

You may also like

प्रेगनेंसी में इन बीमारियों से बचने के लिए अपनाएं ये डाइट प्लान

प्रेगनेंसी के दौरान एक महिला के शरीर में