जानिए: मेष राशि वालों के लिए कैसा रहेगा आने वाला साल…

साल 2021 शुरू होने में अब बस थोड़ा ही समय बाकी रह गया है. महामारी, अर्थव्यवस्था और तरक्की के लिहाज से 2020 लोगों के लिए अच्छा नहीं रहा है. इसलिए 2021 में लोग अच्छे परिवर्तनों की उम्मीद कर रहे हैं. राशियों के आधार पर 2021 में लोगों क नफे-नुकसान का आकलन किया है. आइए जानते हैं कि आने वाले साल में सेहत, करियर और आर्थिक मोर्चे पर मेष राशि (Mesh rashi 2021) वालों का हाल कैसा रहेगा.

सामान्य- सफलता का पर्याय बनकर आया साल 2021 प्रभाव, प्रतिष्ठा और पदोन्नति देने वाला है. अनुशासन और सक्रियता बढ़ाएं. महत्वपूर्ण कार्यों को गति देना आरंभ करें. पहली तिमाही नए अवसरों की संरचना की संकेतक है. वाणी व्यवहार में सहजता सरलता रखें. घर आए लोगों का आदर करें. ‘अतिथि देवो भवः’ को सक्सेस मंत्र की तरह लें. 2021 में अप्रैल से जून तक व्यक्तिगत उपलब्धियों से उत्साहित रहेंगे. नए कार्यों में आगे रहेंगे. साहस, पराक्रम और संपर्क की श्रेष्ठता से सभी क्षेत्रों में क्षमता से बेहतर करेंगे.

रिलेशनशिप– प्रेम के मामले इस वर्ष दिल की अपेक्षा दिमाग पर निर्भर रहेंगे. मन की बात साझा करनें में अतिरिक्त सतर्कता रखेंगे. प्रियजनों को सुनना ज्यादा प्रभावकारी बनाएगा. मित्र प्रभावित रहेंगे. भावनात्मक संतुलन रिश्तों को बल देगा. विवाह के योग बनेंगे. रिश्तों के अवरोध शांत होंगे. महत्वपूर्ण बात को तुरंत कह देना ही अच्छा रहेगा. उचित अवसर की तलाश में अधिक समय न लगाएं. आवश्यक प्रयासों में परिजनों और बड़ों की सलाह उत्तम रहेगी.

आर्थिक– आर्थिक पक्ष  के लिए यह वर्ष उम्मीद से अच्छा रह सकता है. शुरुआती प्रयास वर्ष के अंत तक बड़ी योजनाओं और कार्यों में लाभ दे सकेंगे. नए समझौतों से लाभ होगा. शासन प्रशासन से जुड़े कार्य पूरे होंगे. नौकरीपेशा जिम्मेदारियों को बखूबी निभाएंगे. अधिकारी वर्ग प्रसन्न रहेगा. अप्रैल के बाद शुभ-लाभ में वृद्धि होगी. व्यापार में तेजी आएगी. अधिनस्थ सहयोगी होंगे. पदोन्नति के अवसर बनेंगे. नेतृत्व क्षमता में वृद्धि होगी. संकोच त्यागें. सूचनाओं को महत्व दें.

सेहत– स्वास्थ्य के मोर्चे पर यह वर्ष औसत से अच्छा रहने वाला है. रक्त संबंधों के साथ रक्त विकार पर भी फोकस बनाए रखें. खान-पान की सतर्कता को प्राथमिकता दें. दूसरे और अष्टम भाव में राहू-केतु की गति पुराने रोग उभार सकती है. देर रात तक जागने और अनियमित दिनचर्या को त्यागें. पूर्वार्ध की अपेक्षा वर्ष का उत्तरार्ध स्वास्थ्य के लिए ज्यादा बेहतर रहेगा. एसिडिक फूड के अधिक सेवन से बचें. पर्यावरणीय और वैचारिक पक्ष को सेहत के लिए सर्वात्तम रखें.

एजुकेशन- शैक्षिक गतिविधियों के लिए यह वर्ष साधारण है. प्रतिस्पर्धा की भावना का सम्मान करें. सफलता के नशे में  शॉर्टकट तलाशने की गलती न करें. नियमानुशासन से सबके प्रिय बने रह सकते हैं. मित्रों का सहयोग उल्लेखनीय रहेगा. गुरुजनों का सानिध्य बनाए रखें. बड़ों का साथ भविष्य की योजनाओं के लिए क्रांतिकारी रहेगा. पूर्वार्ध की अपेक्षा उत्तरार्ध अकादमिक गतिविधियों में बेहतर परिणाम दिलाएगा. अकेले तैयारी की तुलना में ग्रुप स्टडी अधिक प्रभावी रहेगी.

नौकरी-व्यापार– कार्य स्थल में काम को लेकर गंभीरता आएगी. शनि-गुरु के एकसाथ होने की वजह से वरिष्ठों से तनाव हो सकता है. हालांकि आपके काम-काज में कमी निकालना किसी के लिए आसान नहीं होगा. सेकेंड हाफ में इन्क्रिमेंट-प्रमोशन का लाभ उठा सकते हैं. व्यापारी वर्ग की बात करें तो बड़े उद्योगकर्मियों के लिए स्थिति ज्यादा सकारात्मक रहेगी.

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nineteen − 3 =

Back to top button