Home > अन्तर्राष्ट्रीय > शांति की राह पर किम जोंग, दक्षिण कोरियाई कंसर्ट में शिरकत की

शांति की राह पर किम जोंग, दक्षिण कोरियाई कंसर्ट में शिरकत की

अमेरिका समेत संयुक्त राष्ट्र के प्रतिबंधों की धज्जियां उड़ाकर परमाणु और मिसाइल परीक्षण करने वाले उत्तर कोरिया के सुप्रीम लीडर किम जोंग उन अब शांति की राह पर चलकर दुनिया के साथ अपने रिश्ते सुधारने में जुट गए है. चीन का दौरा करने के बाद किम जोंग उन वो सभी कदम उठा रहे हैं, जो एक देश दूसरे देश के साथ बेहतर संबंध बनाने के लिए उठाता है. इसी कड़ी में रविवार को सुप्रीम लीडर किम जोंग उन ने दक्षिण कोरिया के ‘के-पॉप’ गर्लबैंड और वहां के कलाकारों द्वारा प्योंगयांग (उत्तर कोरिया की राजधानी) में आयोजित एक कार्यक्रम में हिस्सा लिया.

किम दक्षिण कोरियाई कलाकारों द्वारा आयोजित किसी कार्यक्रम में हिस्सा लेने वाले उत्तर कोरिया के पहले नेता हैं. दरअसल, आने वाले समय में दोनों देशों के बीच अंतर-कोरियाई शिखर सम्मेलन का आयोजन होना है. रविवार को 120 सदस्यीय समूह ने कार्यक्रम पेश किया. यह समूह सोमवार को भी कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाला है. रविवार के कार्यक्रम को देखने के लिए किम और उनकी पत्नी भी पहुंचे थेय किम की पत्नी खुद भी एक गायिका हैं. किम ने दक्षिण कोरियाई कलाकारों के साथ तस्वीरें भी खिचवाईं.

इजरायली सुरक्षा बलों के साथ संघर्ष में 17 फिलिस्तीनी प्रदर्शनकारियों की मौत

वहीं, इसके बाद रविवार को दक्षिण कोरिया और अमेरिका ने अपना संयुक्त सैन्य अभ्यास शुरू कर दिया. हालांकि दक्षिण कोरिया के रक्षा मंत्रालय ने उत्तर कोरिया के साथ मौजूदा संबंधों में सुधार के मद्देनजर इस साल अभ्यास की अवधि कम करने की घोषणा की है. समाचार एजेंसी एफे के मुताबिक करीब 11 हजार पांच सौ अमेरिकी और तीन लाख कोरियाई सैनिक अभ्यास के पहले चरण में भागीदारी करेंगे. इस अभ्यास का नाम फोल इगल है, जो चार सप्ताह तक चलेगा. यह अभ्यास अपनी सामान्य अवधि से करीब एक महीने पहले समाप्त होगा.

इस साल अमेरिका के विमान वाहक और परमाणु पनडुब्बियां पिछले वर्षों की तरह सैन्य अभ्यास के दौरान तैनात नहीं की जाएंगी. दक्षिण कोरिया और अमेरिका ने तैनात सैनिकों की संख्या और युद्धाभ्यास की तीव्रता पहले के वर्षों के समान रखने पर जोर दिया है. साथ ही दोनों देशों के नौसेना बलों द्वारा आठ अप्रैल को स्थल-जल-चर अभ्यास सांगयोंग (डबल ड्रेगन) शुरू करने की घोषणा की गई.

Loading...

Check Also

गे संबंध पर उपन्यास लिखने पर चीन के एक शख्स को मिली 10 साल की सजा

गे संबंध पर उपन्यास लिखने पर चीन के एक शख्स को मिली 10 साल की सजा

लिउ नाम की लेखिका को अन्हुई प्रांत की एक अदालत ने पिछले महीने ‘अश्लील सामग्री’ …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com