Jio का बड़ा फैसला: जल्द लॉन्च कर सकता है Wi-Fi कॉलिंग

- in गैजेट

वॉयस ओवर एलटीई (VoLTE) में तहलका मचाने के बाद अब रिलायंस जियो जल्द ही वॉयस ओवर वाई-फाई की शुरुआत कर सकती है। वाई-फाई से कॉलिंग सेवाओं के जरिए जियो का इरादा अपनी प्रतिद्वंदियों भारती एयरटेल और वोडाफोन को चुनौती देने का है। कंपनी ने सरकार को सूचित कर दिया है कि वह इस सर्विस को बहुत जल्द लॉन्च करेगी। जियो की इस नई सर्विस के जरिए कमजोर मोबाइल सिग्नल होने की स्थिति में भी ग्राहक बेहतर कॉलिंग का मजा ले सकेंगे। Jio का बड़ा फैसला: जल्द लॉन्च कर सकता है Wi-Fi कॉलिंग

इस मामले से जुड़े सूत्रों ने बताया कि जियो की वॉयस ओवर वाई-फाई सुविधा कंपनी के 4जी फीचर फोन में भी मिलेगी। गौर करने वाली बात है कि जियो फीचर फोन के जरिए कंपनी को ग्रामीण इलाकों में भी अपनी पैठ बनाने में मदद मिली है। जियोफोन ने कंपनी को 2 साल से भी कम समय के अंदर 200 मिलियन (20 करोड़) यूजर बेस बनाने में बहुत मदद की है। आपको बता दें कि जियो को कमर्शल तौर पर सितंबर 2016 में लॉन्च किया गया था।
भारत में अभी भी 500 मिलियन (50 करोड़) यूजर्स ऐसे हैं जो फीचर फोन का इस्तेमाल करते हैं। जियो द्वारा फीचर फोन में भी वॉयस ओवर वाई-फाई की सुविधा देने से ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को भी इसका फायदा मिलेगा। वॉयस ओवर वाई-फाई कॉलिंग सर्विस की मदद से मोबाइल यूजर नजदीकी पब्लिक वाई-फाई नेटवर्क का इस्तेमाल कर इंटरनेट कॉल कर सकेगा। इससे ग्रामीण क्षेत्रों, मोटी दीवारों के पुराने मकानों, अंडरग्राउंड गैराज, मेट्रो स्टेशनों और अन्य ऐसी लोकेशन जहां मोबाइल नेटवर्क कमजोर होता है, वहां होने वाली कॉल ड्रॉप्स की समस्या से भी राहत मिलेगी। 
टेलिकम्यूनिकेशंस डिपार्टमेंट के एक सीनियर अधिकारी ने बताया कि जियो सर्विस की सिक्यॉरिटी टेस्टिंग की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। जियो ने सरकार से यह भी पूछा है कि अगर किसी और तरह की भी टेस्टिंग करनी है तो बता दीजिए जिससे ग्राहकों तक इसे पहुंचाने से पहले उस प्रक्रिया को भी पूरा किया जा सके। इस मामले से जुड़े लोगों के मुताबिक, जियो इस सर्विस की शुरूआत इसी महीने से कर सकता है। 

भारत सरकार अपने पब्लिक ओपन वाई-फाई परियोजना के तहत देश में पब्लिक वाई-फाई ईकोसिस्टम को आगे बढ़ाने की कोशिश कर रही है जिसका उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों और टियर -2 व टियर- 3 शहरों में कम दाम पर इंटरनेट कनेक्टिविटी मुहैया कराना है। डीओटी की योजना अगले महीने तक देश भर में 10,000 वाई-फाई हॉटस्पॉट लॉन्च करने की है। इसके बाद पहले तीन महीनों में इनकी संख्या 100,000 तक पहुंचाने की है। एनालिसिस मेसन अध्ययन के अनुसार, पब्लिक वाई-फाई के जरिए 2019 तक भारत में 4 करोड़ नए इंटरनेट यूजर्स जुड़ेंगे। 

इस मामले से जुड़े लोगों ने बताया कि कंपनी नई सर्विस को पहले जियो-टू-जियो नेटवर्क पर ही देगी। इसके बाद दूसरे नेटवर्क के लिए इसका विस्तार किया जाएगा। जियो द्वारा नई सेवा के लिए कोई चार्ज लेने की संभावना नहीं है क्योंकि कंपनी पहले ही साफ कर चुकी है कि वॉयस ओवर एलटीई (वीओएलटीई) नेटवर्क पर वॉयस कॉल हमेशा के लिए मुफ्त रहेगी। वहीं, प्रतिद्वंद्वी कंपनियां भारती एयरटेल और वोडाफोन इंडिया भी अपनी वाई-फाई सेवाओं को जल्द से जल्द लॉन्च करने की तैयारी में हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

अब NAMO एप से खरीद सकेंगे टी-शर्ट, नोटबुक, टोपी और मग जैसी चीजें…

2019 का चुनाव सिर पर है और इससे