JEE MAIN 2018: CBT परीक्षा के लिए इन बातों का रखें विशेष ध्यान​​​​​​​

JEE Main 2018 की परीक्षा में बैठने वाले बच्चों के लिये ये समय काफी तनावपूर्ण होता है, क्योंकि परीक्षा निकट है और ऐसे में क्या करें और क्या ना करें ताकि आप परीक्षा के दिन अपना बेहतरीन प्रदर्शन दें सकें बिना किसी चूंक के।

अप्रैल 15 और अप्रैल 16, 2018 को कम्प्यूटर के माध्यम से होने वाली JEE Main की परीक्षा (CBT) है जिसमें लाखों बच्चों के बैठने की आशंका है। इन विद्यार्थियों में से कुल 2,24,000 विद्यार्थी JEE Advanced के लिये चुनें जायेंगे जो विभिन्न IIT की 10000 सीटों के लिये प्रतिस्पर्धा करेंगें। इन सहूलियतों का फायदा उठाते हुए आप सभी प्रश्नों को ध्यान से हल कर सकते हैं।

सोच समझ कर दें सवालों के जवाब – CBT माध्यम का प्रमुख लाभ यह है की आप सदैव जान सकते हैं की आपने कुल कितने प्रश्न हल करें और कितने रह गए हैं। आप प्रश्नों को आगे जांच के लिए मार्क कर सकते हैं ताकि आप बाद में उनकी समीक्षा दुबारा कर सकें। 

अधिक सवालों के उत्तर देनें से बचें 

जिन सवालों में आपको जरा सी आशंका हो वो सवाल छोड़ कर दूसरे को करने की कोशिश करें और अन्दाज़े से सवालों के जवाब कतई ना दें क्योंकि गलत जवाब देने पर आपके नम्बर कट जायेंगे और आपने जितने सवालों के सही जवाब दिये हैं उसमें से नम्बर कटने पर आपके कट ऑफ़ पर असर पड़ सकता है। माना आपने 60 सवालों के बिल्कुल सही जवाब दिये और आपने अपने आपको 1 सुरक्षित ज़ोन में कर लिया पर वहीं अगर आपने 100 सवाल किये हैं और उनमे गलत सवालों की वजह से नम्बर कटे तो आपकी मेरिट पर बुरा असर होगा। इसलिये सवालों को करने से पहले ध्यान रखें।

स्मार्ट तरीके से हल करें प्रश्न

परीक्षा में कभी कभी ऐसा होता है की हम कईं प्रश्नों को करने में समर्थ तो होते हैं पर भ्रमित हो जाते हैं। ऐसे समय में प्रश्न को कईं बार पढें और सही विकल्प को ना चुनते हुए गलत विकल्पों को ढूंढ कर अलग कर दो और उत्तर तुम्हे निकालने में सरलता हो जायेगी।  

तनाव से दूरी 

तनावपूर्ण दिमाग से की गयी तैयारी से आपको बहुत परेशानी हो सकती है जैसे परीक्षा के समय आपको याद ही ना आये की आपने पढ़ा क्या था। अपना सारा ध्यान अध्ययन और तैयारी में लगाएं और अपनी सोच सकारत्मक रखें ताकि बेहतर तैयारी के साथ पेपर दे सकें। 

 
Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Copy is not permitted !!

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com