जम्मू-कश्मीरः पुलवामा में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, मुठभेड़ में दो आतंकी ढेर…

सुरक्षाबलों को मिली बड़ी सफलता आतंकियों के बीच मुठभेड़ में दो आतंकी ढेर वहीं जिला बारामुला के सिंहपोरा गांव के मुख्य बाजार में आतंकवादियों द्वारा किए गए ग्रेनेड हमले में चार नागरिक घायल हुए हैं। हालांकि सुरक्षाबलों ने बाजार में खड़े सुरक्षाबलों पर फेंका था परंतु ग्रेनेड निशाने पर न गिरकर लोगों के बीच फंटा। इसकी चपेट में आकर चार लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। सुरक्षाबलों ने स्थानीय लोगों की मदद से घायलों को नजदीक अस्पताल पहुंचाया, जहां उनका इलाज चल रहा है।

वहीं ग्रेनेड हमले के तरंत बाद घटना स्थल से फरार हुए आतंकियों की तलाश के लिए इलाके की घेराबंदी शुरू कर दी है।

जिला पुलवामा के टिकन गांव में आज तड़के आंकवादियों और सुरक्षाबलों के बीच शुरू हुई मुठभेड़ में दो आतंकवादियों के मारे जाने की सूचना है। अभी भी इलाके में एक आतंकी के मौजूद होने की आशंका जताई जा रही है। सुरक्षाबलों ने अपना अभियान जारी रखा हुआ है। मुठभेड़ के दौरान क्रास फायरिंग की चपेट में आकर एक नागरिक भी जख्मी हुआ है। उसे उपचार के लिए अस्पताल ले जाया गया है। सुरक्षाबलों ने एहतियात के तौर पर जिला पुलवामा में इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार वि’श्वसनीय सूत्रों से मिली जानकारी के आधार पर एसओजी, सेना की 55 आरआर और सीआरपीएफ जवानों का संयुक्त दल जिला पुलवामा के टिकन इलाके में पहुंचा। उन्होंने इस बात का पता चला था कि इलाके में दो से तीन आतंकी देखे गए हैं। क्षेत्र में पहुंच जैसे ही सुरक्षाबलों ने घेराबंदी कर सर्च ऑपरेशन चलाया आतंकियों ने सुरक्षाबलों को अपने नजदीक आते देख उस उन पर गोलियां बरसाना शुरू कर दी।

अचानक से की गई गोलीबारी के कारण इलाके में अफरा-तफरी मच गई। क्रास फायरिंग की चपेट में आने से एक स्थानीय नागरिक भी घायल हो गया। जवानों ने तुरंत घायल नागरिक को अस्पताल पहुंचाया। इस बीच सुरक्षाबलों ने आतंकियों को आत्मसमर्पण करने का मौका भी दिया परंतु आतंकवादियों ने गोलीबारी का सिलसिला जारी रखा। मुठभेड़ में अभी तक दो आतंकियों को मार गिराया गया है। मारे गए आतंकवादियों की पहचान नहीं हो पाई है परंतु बताया जा रहा है कि ये दोनों अल-बदर मुजाहिदीन आतंकी संगठन से संबंध रखते थे।

वहीं तीसरे आतंकवादी पर काबू पाने का प्रयास किया जा रहा है। सुरक्षाबलों का अभियान अभी भी जारी है। जिला पुलवामा आतंकवादियों का गढ़ माना जाता है। राष्ट्रविरोधी तत्व सैन्य कार्रवाई में बाधा न बनें इसके लिए जिला प्रशासन ने एहतियात के तौर पर इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया है। अभियान जारी है।

 

 

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button