सदन में जयराम और मुकेश अग्निहोत्री के बीच तीखी नोकझोंक

- in बड़ी खबर, राजनीति

विधानसभा में भू-अधिनियम की धारा-118 को लेकर जमकर हंगामा हुआ। कांग्रेस विधायक दल के नेता मुकेश अग्निहोत्री ने प्रश्नकाल शुरू होने से पहले ही सीएम के उस बयान पर आपत्ति जताई, जिसमें उन्होंने धारा-118 को लेकर चेहरा उजागर करने की बात कही है।
मुकेश बोले जांच कराने की चेतावनी से विपक्ष नहीं डरेगा। विपक्ष ने कांग्रेस के विधायकों के चेहरे उजागर करने और सदन में बैठने के लायक नहीं होने के बात का कड़ा विरोध कर हंगामा किया। विपक्ष की ओर से किए गए हंगामे के बीच मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि विपक्ष धमकी दे और हम चुप रहें ऐसा नहीं होगा।

सदन में जयराम और मुकेश अग्निहोत्री के बीच तीखी नोकझोंकमुख्यमंत्री ने कहा कि विपक्ष की ओर से विधानसभा सत्र की शुरूआत ठीक नहीं रही है। सरकार को दो महीने का कार्यकाल हुआ है। ऐसा कोई काम नहीं किया गया जिससे किसी को ठेस पहुंची हो।

आरोप तब लगाए जाते हैं जब कुछ किया हो। अगर विपक्ष बात समझता तो बीते मंगलवार को ही मामले का हल हो जाता।

उन्होंने विपक्ष से कहा कि भू-अधिनियम की धारा-118 को लेकर कांग्रेस विधायकों ने सदन में बहुत कुछ कहा, लेकिन बाहर जाने पर सदन में स्थिति स्पष्ट की गई। उन्होंने विपक्ष से कहा कि इस तरह का गुस्सा वाजिब नहीं है। विपक्ष सदन में व्यवस्था कायम रखे।

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर जब भू अधिनियम की धारा-118 को लेकर स्थिति स्पष्ट कर रहे थे तो उस दौरान बीच में कांग्रेस विधायक दल के नेता मुकेश अग्निहोत्री ने सीट पर खड़े होकर बयानबाजी शुरू कर दी। इस बीच सदन में और तकरार बढ़ गई। सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच शब्दों के तीखे वार होते रहे।

You may also like

‘नमोस्तुते माँ गोमती’ के जयघोष से गूंजा मनकामेश्वर उपवन घाट

विश्वकल्याण कामना के साथ की गई आदि माँ