दरोगा प्रशांत कुमार हत्यारोपी पर 50 हजार का इनाम, दस टीमें…

आगरा में खंदौली के गांव नहर्रा में बुधवार शाम को सात बजे दरोगा प्रशांत कुमार यादव की गोली मारकर हत्या कर दी गई। इस हत्याकांड का आरोपी विश्वनाथ 24 घंटे बाद भी पुलिस की पकड़ में नहीं आ सका। उसकी गिरफ्तारी के लिए दस टीम लगी हैं। पुलिस ने आरोपी के 20 परिचितों और करीबियों को हिरासत में लेकर पूछताछ की, लेकिन आरोपी का पता नहीं चल सका। पांच टीम अलग-अलग जिलों में भी दबिश दे रही हैं। दरोगा 

दरोगा प्रशांत कुमार यादव की हत्या के आरोपी विश्वनाथ पर आईजी  ए सतीश गणेश ने 50,000 का इनाम घोषित किया है। सूचना देने वाले का नाम गोपनीय रखा जाएगा। पुलिस के सरकारी नंबर पर भी सूचना दी जा सकती है।

नहर्रा गांव निवासी विजय सिंह पहलवान के दो बेटे शिवनाथ और विश्वनाथ के बीच बुधवार सुबह खेत से आलू खोदने को लेकर झगड़ा हुआ था। शाम को सात बजे शिवनाथ की सूचना पर दरोगा प्रशांत कुमार यादव और सिपाही चंद्रसेन गांव में बाइक से पहुंचे थे। विश्वनाथ खेत में तमंचा लेकर मजदूरों को धमका रहा था। प्रत्यक्षदर्शियों ने पुलिस को बताया कि उसने दरोगा प्रशांत कुमार यादव को पीछे आता देखकर अचानक गोली चल दी थी। सिपाही चंद्रसेन भी साथ में था। उन्होंने किसी तरह छिपकर खुद को बचाया। इसके बाद आरोपी  भाग गया। गोली चलने पर सिपाही ने ही थाने पर सूचना दी थी। इसके बाद थाने से पुलिस फोर्स के पहुंचने पर दरोगा को स्वास्थ्य केंद्र लेकर गए थे। 

एडीजी जोन राजीव कृष्ण सहित अन्य पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। हत्यारोपी विश्वनाथ की गिरफ्तारी के लिए अलग-अलग दस टीमों को लगाया गया। इनमें जोन के कई तेज तर्रार निरीक्षक और दरोगा सहित सिपाही भी शामिल हैं। पुलिस ने गांव में खेतों की तलाशी ली। रात भर खेतों में कॉबिंग चलती रही। मगर, आरोपी विश्वनाथ नहीं मिला। वहीं उसका परिवार भी फरार हो गया है। गांव में विश्वनाथ के चाचा का परिवार रहता है। उनका घर विश्वनाथ के घर के पास ही है। वह भी सामने नहीं आए। 

आगरा में दरोगा की हत्या: नम आंखों के साथ शहीद को अंतिम विदाई, अधिकारियों ने दिया अर्थी को कंधा

20 लोग लिए हिरासत में
आगरा के अलावा मथुरा, हाथरस, अलीगढ़ और फिरोजाबाद में भी पुलिस टीमों को भेजा गया है। पुलिस ने तकरीबन 20 लोगों को हिरासत में ले लिया। उनसे पूछताछ की गई। मगर, कोई भी विश्वनाथ के बारे में जानकारी नहीं दे सका है। शिवनाथ से भी पुलिस पूछताछ कर रही है। गुरुवार दोपहर को भी अधिकारी गांव में पहुंचे। आरोपी के बारे में जानकारी ली। 

आगरा में दरोगा की हत्या: दोनों भाइयों में सुबह से चल रहा था विवाद, शाम को दरोगा की ले ली जान

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button