भारत ने किया म्यांमार नेपाल बांग्लादेश और ईरान को कोरोना वैक्सीन का निर्यात, पढ़े पूरी खबर

कोरोना से पूरी दुनिया परेशान है। ऐसे में सभी देश आपस में मिलकर इस संक्रमण से लड़ रहे हैं। भारत ने भी कई देशों की मदद की है। भारत ने म्यांमार, नेपाल, बांग्लादेश और ईरान को कोरोना वैक्सीन का निर्यात किया है। सूत्रों ने रविवार को इसकी जानकारी दी। सूत्रों के अनुसार, म्यांमार, नेपाल और बांग्लादेश को कोविशील्ड की दस लाख खुराक मिली, जबकि ईरान को कोवाक्सिन की तीन लाख खुराक मिली है।

इससे पहले 20 सितंबर को, भारत सरकार ने अक्टूबर से कोरोना वायरस के खिलाफ टीकों के निर्यात को फिर से शुरू करने के अपने निर्णय की घोषणा की थी। निर्णय की घोषणा करते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने कहा था कि भारत कौवेक्स (COVAX) के प्रति देश की प्रतिबद्धता को पूरा करने के लिए अपनी ‘वैक्सीन मैत्री’ पहल के तहत कोरोना वायरस के टीकों का निर्यात फिर से शुरू करेगा।

आपको बता दें कि भारत में देश में कोरोना टीकाकरण अभियान ने 94 करोड़ डोज पार करने के साथ ही आधी दूरी तय कर ली है। 31 दिसंबर तक सभी वयस्कों के टीकाकरण के लक्ष्य के हिसाब से देखें तो अगले लगभग पौने तीन महीने में बाकी की आधी दूरी तय करनी है। सितंबर के मुकाबले अक्टूबर में टीकाकरण की रफ्तार धीमी बनी हुई है जो लक्ष्य के रास्ते में बड़ी बाधा नजर आ रही है। टीकाकरण की रफ्तार को बढ़ाने और उसके रास्ते में आ रही दिक्कतों को दूर करने के लिए शनिवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने 19 राज्यों के साथ बैठक की।

 

देश में 18 साल से अधिक उम्र के लोगों की आबादी लगभग 94 करोड़ है। प्रति व्यस्क दो डोज के हिसाब से सभी व्यस्क लोगों के टीकाकरण के लिए 188 करोड़ डोज लगाने की जरूरत है। स्वास्थ्य मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि पूर्ण टीकाकरण के लिए अब केवल 94 करोड़ डोज लगाने की जरूरत है।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button