चंद्र बाबू नायडु के समर्थन में उतरे केजरीवाल, दोस्‍ती निभाने के लिए TDP सांसदों से मिलने पहुंचे थाने

नई दिल्ली। आंध्र प्रदेश के लिए विशेष राज्य के दर्जे की मांग कर रहे तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) के सांसदों ने एक बार फिर धरना प्रदर्शन तेज कर दिया है। इस कड़ी में टीडीपी के 24 सांसदों ने दिल्ली के 7 लोक कल्याण मार्ग स्थित प्रधानमंत्री आवास के बाहर विरोध-प्रदर्शन किया। वहीं, सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर दिल्ली पुलिस ने आंदोलन कर रहे सभी टीडीपी सांसदों को हिरासत में ले लिया।

जानकारी के मुताबिक, इस दौरान प्रदर्शनकारी सांसदों को वहां से जबरन हटाया गया और बसों में भरकर तुगलक रोड थाने ले जाया गया। इस दौरान टीडीपी के ये सांसद रास्ते भर केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते रहे। वहीं, रविवार सुबह दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल टीडीपी सांसदों से तुगलकाबाद थाने में मिलने पहुंचे। इस दौरान केजरीवाल ने सांसदों की मांगों का समर्थन किया और साथ ही उन्हें हिरासत में लिए जाने की कड़ी निंदा की। पिछले दिनों ही चंद्र बाबू नायडु ने दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल से मुलाकात की थी। अब दोनों की मुलाकात असर दिखा रही है। 

केजरीवाल ने अपने ट्वीट में कहा- ‘यह बेहद दुखद है कि टीडीपी के उन सांसदों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया, जो प्रधानमंत्री से मिलने चाहते थे। यह अलोकतांत्रिक है। हम टीडीपी की मांग के समर्थन में हैं।’ वहीं, विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग को लेकर भूख हड़ताल पर बैठे वाइएसआरसीपी के सांसद राव वेलागापल्ली की इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। भूख हड़ताल के दौरान उनकी हालत अचानक खराब हो गई थी, जिससे उन्हें इलाज के लिए अस्पताल ले जाना पड़ा। 

गौरतलब है कि आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री और टीडीपी अध्यक्ष चंद्रबाबू नायडू के सांसदों से आंध्र को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने को लेकर अपना विरोध-प्रदर्शन तेज कर दिया है। बता दें कि आंध्र प्रदेश को विशेष दर्जे की मांग कर रहे टीडीपी सांसदों के हंगामे और शोरगुल के चलते संसद के बजट सत्र के दूसरे चरण की कार्यवाही पूरी तरह बाधित रही थी। शुक्रवार को ही बजट सत्र खत्म हो गया।  यहां पर बताना जरूरी है कि आंध्र को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग को लेकर टीडीपी ने पिछले महीने एनडीए गठबंधन से अपना नाता तोड़ लिया था।

इस कड़ी में पार्टी ने लोकसभा में नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस भी दिया था। हालांकि सदन में हंगामे के चलते इस पर चर्चा नहीं हो सकी थी। बता दें कि 2019 में होने वाले आम चुनाव से पहले गैरभाजपा मोर्चा बनाने के लिए आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने भी कवायद तेज कर दी है। इसी मामले को लेकर नायडू ने 4 अप्रैल को दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल से मुलाकात की थी। 

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button