यूक्रेन में और तबाही मचाने के लिए रूस ने उठाया ये बड़ा कदम…

रूस और यूक्रेन के बीच जारी जंग को 2 महीने से ज्यादा हो चुके हैं. इसके बावजूद अब तक दोनों में कोई भी झुकने को तैयार नहीं दिख रहा है. रूस (Russia) ने शनिवार को यूक्रेन के तीसरे सबसे बड़े शहर ओडेसा (Odessa) पर रॉकेट बरसाए और हवाईअड्डे के रनवे को तहस-नहस कर दिया. रूस के हमले में काला सागर का एक महत्वपूर्ण बंदरगाह भी बर्बाद हो गया. 

रॉकेट हमलों से हवाई अड्डे का रन वे हुआ बर्बाद

यूक्रेन (Ukraine) की सेना ने शनिवार को यह जानकारी दी. ‘टेलीग्राम’ पर जारी एक पोस्ट में यूक्रेनी सेना के ‘ऑपरेशनल कमान साउथ’ ने बताया कि रूस (Russia) के रॉकेट हमलों के बाद ओडेसा (Odessa) हवाई अड्डे का रनवे इस्तेमाल के लायक नहीं रह गया है. यूक्रेन की समाचार समिति ‘यूएनआईएएन’ ने सेना के सूत्रों के हवाले से कहा कि स्थानीय प्रशासन ने लोगों से सुरक्षित जगहों पर शरण लेने को कहा है

रूस ने क्रीमिया प्रायद्वीप से की रॉकेटों की बरसात

ओडेसा के क्षेत्रीय गवर्नर ने कहा कि शहर में विस्फोट की कई आवाज सुनी गई हैं. ये रॉकेट रूस (Russia) के कब्जे वाले क्रीमिया से दागे गए थे. हमलों में किसी की जान जाने की सूचना नहीं है. यूक्रेनी सेना ने मकानों में फंसे 20 लोगों को सुरक्षित निकाला है. इसी बीच ब्रिटेन के पीएम बोरिस जॉनसन ने यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की से बात करके बंदरगाह शहर मारियुपोल से नागरिकों को निकालने के लिए यूएन की ओर से किए जा रहे प्रयासों की जानकारी दी. 

पुतिन के इरादे सफल नहीं होने देंगे: बोरिस

बोरिस जॉनसन ने जेलेंस्की को आश्वासन दिया कि उनका देश यूक्रेन (Ukraine) को युद्ध में हर तरह की मदद मुहैया करवाता रहेगा और पुतिन के इरादों को सफल नहीं होने देगा. जॉनसन ने कहा कि अपने देश की आजादी के लिए लड़ रहे यूक्रेनी फाइटर्स की बहादुरी देखने लायक है. उनके इसी साहस की वजह से रूस (Russia) कभी भी अपने मकसद को हासिल नहीं कर पाएगा. 

मारियुपोल में फंसे हैं 1 लाख यूक्रेनी नागरिक

बता दें कि यूक्रेन (Ukraine) के मारियुपोल शहर में उसके करीब 1 लाख नागरिक फंसे हुए हैं. इनमें से करीब 1 हजार नागरिक शहर के करीब 11 किलोमीटर हिस्से में फैले स्टील प्लांट में छिपे हुए हैं. यह शहर रूस के कब्जे वाले क्रीमिया प्रायद्वीप के नजदीक है और रूस इस पर कब्जा करके क्रीमिया के लिए जमीनी रास्ता हासिल करना चाहता है. यूक्रेन के आग्रह पर संयुक्त राष्ट्र संघ रूस (Russia) से बात करके मारियुपोल शहर में फंसे लोगों को निकालने की कोशिश कर रहा है. 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published.

1 × two =

Back to top button