मुंबई में हो रही हैं आफत की बारिश, कई इलाकों में भरा पानी…

महाराष्ट्र में मानसून की वजह से कई इलाकों में बारिश का दौर जारी है. मॉनसून की बारिश ने देश की आर्थिक राजधानी मुंबई को बेहाल कर दिया है. मंगलवार की रात से ही मुंबई में बारिश हो रही है जिस वजह से कई इलाकों में पानी भर गया है. इसके अलावा मौसम विभाग ने आज भी भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है.भारी बारिश के अलावा मुंबई में आज शाम 4 बजे हाई टाइड आने की भी संभावना जताई जा रही है.

मौमस विभाग के मुताबिक मुंबई में बुधवार की दोपहर 04 बजकर 13 मिनट पर हाई टाइड आ सकता है. इस दौरान समुंद्र में लहरों की ऊंचाई 4 मीटर तक जा सकती है. इसके अलावा बुधवार को दूसरी हाई टाइड की भी संभावना है, विभाग के मुताबिक मुंबई में दूसरी हाई टाइड बुधवार की रात 10 बजकर 23 मिनट पर आ सकती है. हालांकि, इसका प्रभाव दिन के मुकाबले कम रहेगा और लहरें 2 मीटर तक उठ सकती हैं. 

https://twitter.com/ANI/status/1404998261308497921?

विभाग के मुताबिक बुधवार को मुंबई समेत राज्य के कई इलाकों में भारी बारिश की संभावना जताई गई है. मंगलवार को भी मुंबई और आसपास के इलाकों में भारी बारिश हुई. मौसम विज्ञानियों ने कहा कि यह उत्तरी महाराष्ट्र तट से उत्तरी केरल तट तक फैले एक ट्रफ के विकसित होने से हुआ है. साथ ही इस क्षेत्र में पछुआ हवाएं भी तेज हो गई थीं, जिससे बारिश हुई.

मौसम विभाग के वैज्ञानिकों ने बताया कि बुधवार के बाद महाराष्ट्र के कई इलाकों में बारिश की रफ्तार और तेज होगी. 17 और 18 जून को कुछ स्थानों पर भारी बारिश होने की पूरी संभावना है. बुधवार की सुबह कई इलाकों में तेज बारिश के बाद जल जमाव हो गया.

https://twitter.com/ANI/status/1404994190740578307?re

दिल्ली में मानसून आने में होगी देरी

मौसम विभाग ने मंगलवार को कहा कि पश्चिमी विच्छोभ के कारण उत्तरी-पश्चिमी भारत में मानसून की तेजी में कमी आयी है और उसे दिल्ली पहुंचने में 7 से 10 दिन का समय लग सकता है. मौसम विभाग कार्यालय ने बुधवार को आसमान में आमतौर पर बादल छाए रहने के साथ हल्की से मध्यम बारिश और गरज के साथ 40-50 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलने का अनुमान जताया है.

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

sixteen + 12 =

Back to top button