दहेज में बुलेट बाइक नहीं मिलने पर ससुराल वालों ने बहू की कर दी हत्या, जलाकर मिटा दिए साक्ष्य

आरा। भोजपुर जिले के आरा शहरी क्षेत्र स्थित नवादा थाना क्षेत्र के बहिरो गांव में दहेज में बुलेट बाइक नही मिलने से महिला की हत्या कर साक्ष्य मिटाए जाने का मामला प्रकाश में आया है। बताया जाता है कि रोहतास जिले के बिक्रमगंज थानांतर्गत कझाई गांव निवासी उपेंद्र सिंह की पुत्री प्रीति कुमारी (40 वर्ष) की शादी बड़े ही धूम धाम से बीते 30 जून 2020 को आरा के बहिरो निवासी मृत्युंजय सिंह के पुत्र गौतम कुमार के साथ हुई थी।

Ujjawal Prabhat Android App Download

प्रीति के पिता ने अपने सामर्थ्य के अनुसार वर पक्ष को नकदी समेत अभूषण और अन्य उपहार दिया था। शादी के बाद जब विवाहिता ससुराल आई तो उस पर बुलेट बाइक के लिए दबाव बनाया जाने लगा। बाइक नही देने पर ससुराल में उसे प्रताड़ित किया जाने लगा।

इस बीच सोमवार को उसकी हत्या कर दी गई और उसे जलाकर साक्ष्य मिटा दिया गया। इधर विवाहिता के मायके वालों को इस बात की कोई भनक तक नही लग सकी। मंगलवार को जब मायके वालों को संदेह हुआ तो अपनी पुत्री के बारे में खोज खबर लेनी शुरू की। पता चला की प्रीति इस दुनिया मे नही रही। उसे जलाकर साक्ष्य मिटा दिया गया था।

प्रीति के पिता उपेंद्र सिंह ने दहेज में बुलेट नही मिलने को लेकर हुई उनकी पुत्री की हत्या कर साक्ष्य मिटाए जाने के खिलाफ आरा के नवादा थाना में प्रीति के पति समेत पांच लोगों पर एफआईआर दर्ज कराया है। एफआईआर में विवाहिता के पति गौतम कुमार, ससुर मृत्युंजय कुमार, भैसुर गौरव कुमार, सास उषा देवी और गोतनी पूजा देवी को नामजद किया गया है। बुधवार को नवादा थानाध्यक्ष ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है और बहिरो गांव में पुलिस की टीम भेजी गई है। घटना में जो भी दोषी पाए जाएंगे उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button