पाकिस्तान: सिख श्रद्धालुओं के सामने उठाया गया खालिस्तान का मुद्दा

भारत ने पाकिस्तान में सिख श्रद्धालुओं की यात्रा के दौरान खालिस्तान मुद्दा उठाने की कोशिशों को लेकर सोमवार को दिल्ली में पाकिस्तान के उप उच्चायुक्त को तलब किया और कड़ा विरोध दर्ज कराया. विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि पाकिस्तान से तत्काल उन गतिविधियों पर रोक लगाने के लिए कहा गया जिनका लक्ष्य भारत की संप्रभुता, क्षेत्रीय अखंडता को कम करना और देश में सौहार्द बिगाड़ना है.

मंत्रालय ने कहा, ‘‘भारत से पाकिस्तान गए सिखों की मौजूदा यात्रा के दौरान पाकिस्तान में भड़काऊ बयान देकर एवं श्रद्धालुओं की यात्रा के विभिन्न पड़ावों पर पोस्टर लगाकर खालिस्तान का मुद्दा उठाने की कोशिशों को लेकर कड़ा विरोध जताया गया.’’ मंत्रालय ने कहा कि उन्हें यह बताया गया कि भारत में अलगाववादी आंदोलनों को समर्थन देने की पाकिस्तान में अधिकारियों एवं इकाइयों द्वारा बार बार की जा रही कोशिशें उसके आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप है.

ईरान: भारतीय लड़की की मौत, 19 घायल

विदेश मंत्रालय ने साथ ही कहा कि भारतीय श्रद्धालुओं की यात्रा के दौरान हो रही इन तरह की घटनाएं दोनों देशों के बीच श्रद्धालुओं की यात्रा के आदान प्रदान से जुड़े 1974 के द्विपक्षीय प्रोटोकॉल की भावना के खिलाफ है. इससे पहले रविवार को भारत ने पाकिस्तान की यात्रा कर रहे श्रद्धालुओं के भारतीय राजनयिकों से मिलने में रोड़े अटकाने को लेकर पाकिस्तान के समक्ष कड़ा विरोध जताया था.

 
 
 

 

 

सम्बंधित समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

China के सबसे ‘शक्तिशाली’ व्‍यक्ति की चेतावनी, ट्रेड वार से होगी सबसे ज्‍यादा बर्बादी

चीन के सबसे अमीर और शक्तिशाली व्‍यक्ति जैक मा ने