अगर मंदिर से आपकी चप्पल चोरी हो जाये तो समझ जाइये कि आपकी जिंदगी में मंगल ही मंगल

मंदिरों से जूते-चप्पलों का चोरी होना कोई नई बात नहीं है. कई लोगों के जूते-चप्पल मंदिरों से चोरी होते हैं. वैसे तो इसको लोग एक नुकसान की तरह देखते हैं लेकिन ज्योतिष में इसका अलग महत्व है. ज्योतिष जूते-चप्पलों का चोरी होना गलत नहीं मानता बल्कि इसको एक शुभ संकेत के रूप में देखता है. खासकर अगर शनिवार को आपके जूते-चप्पल चोरी होते हैं तो इसका मतलब है कि आपका बुरा समय खत्म होने वाला है.

अगर मंदिर से आपकी चप्पल चोरी हो जाये तो समझ जाइये कि आपकी जिंदगी में मंगल ही मंगल

जूते चप्पलों को लेकर शास्त्रों में मान्यताएं हैं कि इनके चोरी होने से दरिद्रता कम हो जाती है. अगर शनिवार को मंदिर या किसी पवित्र स्थान से जूते-चप्पल चोरी होते हैं तो समझ जाइये कि आपकी परेशानियां जल्द ही दूर हो जाएंगी. शनि देव को न्यायाधीश माना जाता है और अगर शनि अशुभ हैं तो आपके सारे कामों में व्यवधान आता रहेगा. ऐसे में अगर आपके जूते मंदिर से चोरी होते हैं तो इसे शुभ संकेत माना जाता है.

अगर आपका भी बैंक खाता SBI या PNB में हैं तो जरुर पढ़ें, हो जाइए खुश, मोदी सरकार दे रही घर बैठे…

ज्योतिष शास्त्र की मानें तो इंसान के शरीर में सभी ग्रहों का वास होता है. ये ग्रह इंसान के विभिन्न अंगों में होते हैं. शनि का वास पैरों में माना गया है इसी कारण पैरों से संबंधित होने के कारण जूते-चप्पलों को शनि ग्रह का कारक माना जाता है. इसी वजह से जूते-चप्पलों के दान से शनि देव बहुत प्रसन्न होते हैं. अगर शनिवार को जूते चप्पलों का दान करते हैं तो शनिदेव आपकी किस्मत चमका देते हैं.

 
Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button