अगर आपने अभी तक नहीं बनवाया हैं FASTag, तो जरुर पढ़े ये… खबर

रोड-ट्रांसपोर्ट और हाईवे मिनिस्ट्री ने 15 फरवरी 2021 से सभी गाड़ियों के लिए फास्टैग (FASTags) जरूरी कर दिया है। मिनिस्ट्री ने पहले ही इस संबंध में ऑर्डर दे दिया है। देश भर में टोल चार्जेज चुकाने के लिए इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन सिस्टम FASTag जरूरी होगा। नेशनल हाईवे के किसी भी टोल प्लाजा को क्रॉस करते समय इसकी जरूरत पड़ेगी। सरकार ने शुरुआत में सभी व्हीकल्स में फास्टैग के लिए 1 जनवरी 2021 की डेडलाइन तय की थी। टोल फी कलेक्ट करने के लिए हाइब्रिड लेन 15 फरवरी 2021 तक चालू रहेंगी।
 

गाड़ियों के लिए टोल प्लाजा में घटेगा वेटिंग टाइम
HDFC बैंक, Axis बैंक, ICICI बैंक, Kotak बैंक, Paytm पेमेंट्स बैंक और IDFC First बैंक समेत कई बैंक फास्टैग जारी कर रहे हैं। कैश ट्रांजैक्शन के मुकाबले फास्टैग से व्हीकल्स के लिए टोल प्लाजा में लगने वाला वेटिंग टाइम घटेगा। 


क्या है FASTag
FASTag स्टीकर आपकी कार की विंडशील्ड से अटैच होता है और इसमें रेडियो-फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (RFID) टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जाता है। स्टीकर को कार की विंडशील्ड के अंदर लगाया जाता है और इसमें बार कोड होता है। RFID टेक्नोलॉजी को नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) ने डिवेलप किया है। प्रत्येक टोल प्लाजा की क्रॉसिंग लेन पर फास्टैग रीडर्स लगाए गए हैं। जैसे ही आपका व्हीकल डिटेक्टर के पास से गुजरता है। RFID कोड को डिटेक्ट कर लिया जाता है और आपके मिनिमम प्रीपेड बैलेंस से जरूरी टोल अमाउंट को काट लिया जाता है। नेशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने 10 फरवरी को कहा है कि FASTag वॉलेट में मिनिमम अमाउंट मेंटेन करना जरूरी नहीं है। 

आपके सफर को FASTag कैसे बनाता है आसान
FASTag, टोल प्लाजा पर गाड़ी रोके बिना टोल टैक्स कलेक्ट करने में मदद करता है। RFID टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल से टोल बूथ एंप्लॉयीज को कैश हैंडल नहीं करना पड़ेगा और आसानी से टैक्स कलेक्ट हो जाएगा। इसके अलावा, फास्टैग के इस्तेमाल से टोल बूथ पर गाड़ियों की लंबी लाइनें नहीं लगेंगी। 

कहां से खरीदें FASTag
FASTags को देश भर के टोल बूथ से खरीदा जा सकता है। इसके अलावा, फास्टैग्स को Amazon.in और स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, HDFC बैंक, Axis बैंक, ICICI बैंक, Kotak बैंक, Paytm पेमेंट्स बैंक और IDFC First बैंक समेत कई बैंकों से खरीद सकते हैं। इनमें से ज्यादातर बैंक उनके मोबाइल ऐप्स से FASTags खरीदने पर डिस्काउंट या एक्सक्लूसिव ऑफर्स और कैशबैक ऑफर कर रहे हैं। फास्टैग्स खरीदने के लिए गाड़ी के रजिस्ट्रेशन डॉक्यूमेंट्स के साथ आपकी आईडी की जरूरत पड़ती है। 


FASTags खरीदने की कॉस्ट दो चीजों पर निर्भर करती है। पहला आपके पास कौन सा व्हीकल (कार, जीप, वैन, बस, ट्रक, लाइट कमर्शियल व्हीकल्स, कंस्ट्रक्शन मशीन) है और दूसरा फास्टैग को आप किस बैंक से खरीद रहे हैं। इश्यूअंस फीस और सिक्योरिटी डिपॉजिट को लेकर अलग-अलग बैंकों में अलग प्राइसिंग पॉलिसीज हो सकती हैं। मौजूदा समय में PayTM पर फास्टैग आपको 500 रुपये का पड़ेगा, जिसमें से 250 रुपये रिफंडेबल सिक्योरिटी डिपॉजिट है।


कैसे रिचार्ज करें FASTags
बैंकों की तरफ से इश्यू किए गए FASTags को पेटीएम और फोनपे पर रिचार्ज किया जा सकता है। आप यूपीआई, क्रेडिट कार्ड्स, डेबिट कार्ड्स का इस्तेमाल करते हुए फास्टैग रिचार्ज कर सकते हैं। 


फास्टैग की वैलिडिटी 
कोई भी FASTag जारी होने की तारीख से 5 साल के लिए वैलिड है। फास्टैग्स के रिचार्ज से इसकी वैलिडिटी एक्सटेंड नहीं होती है। 

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button