अगर वजन बढ़ाने के डर से कम खाते हैं चावल तो जरुर पढ़े ये… खबर

बात जब फिटनेस की आती है, तो बहुत सारी चीजों को खाते समय हमें मन मारना पड़ता है। चावल को भी बहुत सारे लोग अनहेल्दी मानते हैं। इसका कारण यह है कि चावल में कार्बोहाइड्रेट्स की मात्रा बहुत ज्यादा होती है। कार्बोहाइड्रेट वाले आहार शरीर में एनर्जी बढ़ाने का काम करते हैं, लेकिन अगर ज्यादा मात्रा में खाया जाए तो वजन भी बढ़ाते हैं और शुगर भी बढ़ाते हैं। इसलिए जब लोगों का वजन बढ़ जाता है, तो उन्हें व्हाइट राइस यानी सफेद चावल कम खाने की सलाह दी जाती है।

Loading...

दूसरी तरफ कार्बोहाइड्रेट होने के कारण हम में से बहुत सारे लोगों को चावल की क्रेविंग भी होती है। बिरयानी, पुलाव, मटर-पुलाव, फ्राइड राइस, मंचूरियन राइस, छोले-चावल, राजमा-चावल आदि न जाने कितनी स्वादिष्ट डिशेज हैं, जिनमें चावल होता है। ऐसे में अगर आप भी चावल खाते समय ‘अपराधी’ जैसा महसूस करते हैं या मन मारकर थोड़ा सा चावल खा लेते हैं, तो हम आपको बता रहे हैं चावल पकाने का एक ऐसा तरीका जिससे सामान्य उबले हुए चावल की अपेक्षा लगभग 50% तक कैलोरीज कम हो जाएंगी। इससे आप चावल का आनंद भी ले पाएंगे और आपका वजन भी नहीं बढ़ेगा।

चावल एक ऐसा फूड है जिसमें स्टार्च बहुत ज्यादा होता है। जब आप चावल खाते हैं, तो इसमें मौजूद कार्बोहाइड्रेट को तोड़कर शरीर तुरंत सिंपल शुगर में बदल देता है। यही कारण है कि डायबिटीज के रोगियों को चावल न खाने की सलाह दी जाती है क्योंकि इससे उनके खून में तुरंत शुगर बढ़ जाता है। यही अचानक बढ़ने वाले शुगर के कारण ही ज्यादा चावल खाने के बाद कुछ लोगों को नींद, आलस और थकान महसूस होने लगती है।

अगर आपको चावल खाना पसंद है, लेकिन कैलोरीज की चिंता है, तो आप चावल पकाने और खाने का तरीका बदल दें। ये तरीका श्रीलंका के वैज्ञानिकों की एक टीम ने खोजा है, जिसकी दुनियाभर में काफी सराहना की गई थी। इस तरह से चावल पकाने के लिए-चावल को अच्छी तरह धोकर 15 मिनट पानी में भिगो दें।

अब कुकर में 1 चम्मच नारियल का तेल डालें।

इस नारियल के तेल में चावल को 1 मिनट फ्राई करें और फिर जरूरत के अनुसार पानी डालकर कुकर बंद कर दें और बिलकुल धीमी आंच पर इसे पकाएं।

पकाने के बाद चावल को ठंडा होने दें और फिर फ्रिज में इसे 12 घंटे के लिए रख दें।

12 घंटे बाद आप चावल को चाहे तो सामान्य तापमान में लाकर खा लें या दोबारा गर्म कर के खा लें।

वैज्ञानिकों का दावा है कि इस तरह पकाकर खाने से चावल में लगभग 50%-60% कैलोरीज कम हो जाती हैं।

अगर आप वाकई जानना चाहते हैं कि कैलोरीज कम होने का ये कमाल कैसे होता है, तो इसके लिए आपको थोड़ा साइंटिफिक बातें समझनी पड़ेंगी। दरअसल चावल को ठंडा करने पर इसके स्टार्च में मौजूद एमिलोज नामक पदार्थ चावल के दानों से अलग हो जाता है। जब आप इस पके हुए चावल को 12 घंटे के लिए फ्रिज में रख देते हैं, तो यही एमिलोज के मॉलीक्यूल्स मिलकर हाइड्रोजन बांड बना लेते हैं, जिससे सिंपल स्टार्च, रजिस्टेंट स्टार्च में बदल जाता है। अब होता यह है कि रजिस्टेंट स्टार्च आपके शरीर में मौजूद एंजाइम्स के लिए पचाना आसान होता है। इसलिए जब आप 12 घंटे बाद चावल खाते हैं, तो इसमें मौजूद स्टार्च को आपकी आंतों में मौजूद बैक्टीरिया खा लेते हैं, जिससे आपको कम कैलोरीज मिलती हैं।

loading...
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *