अगर आपको व्यापार में हो रहा है नुकसान या कर रहे है रोजगार तलाश तो करें ये… उपाय

शनिवार के दिन केवल शनिदेव की ही नहीं बल्कि हनुमान जी की भी अराधना की जाती है। रामायण के अनुसार, वे जानकी के अत्यधिक प्रिय हैं। ऐसी मान्यता है कि धरती पर जिन 7 मीषियों को अमरत्व का वरदान प्राप्त था उनमें से एक बजरंगबली भी थे। साथ ही ऐसा भी कहा जाता है कि हनुमान जी का अवतार भगवान राम की सहायता के लिए ही हुआ था। हनुमान जी को बजरंगबली भी कहा जाता है। इन्हें पवन-पुत्र भी कहा जाता है क्योंकि वायु अथवा पवन ने हनुमान जी के पालन-पोषण में अहम भूमिका निभाई थी। कहा जाता है कि इनकी अराधना करने से व्यक्ति की मनोकामना पूरी हो जाती हैं। अगर कोई व्यक्ति नौकरी-रोजगार की तलाश में हैं और हर तरफ से उसे निराशा ही हाथ लग रही है तो उन्हें इन उपायों को जरूर आजमाना चाहिए।

पहला उपाय- अगर आपका व्यपार नहीं चल रहा है या आपको नौकरी नहीं मिल रही है तो आप मंदिर में बैठकर 11 मंगलवार या शनिवार को सुंदरकांड का पाठ करें। अगर इसकी शुरुआत हनुमान जयंती पर करें तो बेहतर होगा।

शनिवार के दिन केवल शनिदेव की ही नहीं बल्कि हनुमान जी की भी अराधना की जाती है। रामायण के अनुसार, वे जानकी के अत्यधिक प्रिय हैं। ऐसी मान्यता है कि धरती पर जिन 7 मीषियों को अमरत्व का वरदान प्राप्त था उनमें से एक बजरंगबली भी थे। साथ ही ऐसा भी कहा जाता है कि हनुमान जी का अवतार भगवान राम की सहायता के लिए ही हुआ था। हनुमान जी को बजरंगबली भी कहा जाता है। इन्हें पवन-पुत्र भी कहा जाता है क्योंकि वायु अथवा पवन ने हनुमान जी के पालन-पोषण में अहम भूमिका निभाई थी। कहा जाता है कि इनकी अराधना करने से व्यक्ति की मनोकामना पूरी हो जाती हैं। अगर कोई व्यक्ति नौकरी-रोजगार की तलाश में हैं और हर तरफ से उसे निराशा ही हाथ लग रही है तो उन्हें इन उपायों को जरूर आजमाना चाहिए।

दूसरा उपाय- अगर आप नौकरी के लिए इंटरव्यू देने जा रहे हैं तो जेब में लाल रूमाल या कोई लाल कपड़ा रख लें। हालांकि, यह रुमाल हनुमान जी के चरणों का होना चाहिए।

तीसरा उपाय- हर दिन हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए। साथ ही हनुमान जी को पांच शनिवार या मंगलवार को मंदिर में जाकर चोला चढ़ाना चाहिए। इससे हनुमान जी बेहद प्रसन्न हो जाते हैं। इसके अलावा 11 मंगलवार को हनुमान जी को पान और पूरी सुपारी भी अर्पित करने चाहिए।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button