अगर कोई है इस रोग से ग्रसित तो उसको लग है स्मार्टफोन की लत

भावानात्मक रूप से कमजोर व चिंता व अवसाद से पीड़ित लोगों में स्मार्टफोन की लत पड़ने की संभावना ज्यादा होती है. शोध में पाया गया है कि भावनात्मक रूप से कम स्थिर होना स्मार्टफोन व्यवहार से जुड़ा हुआ है.

ऐसे लोग जो अपने मानसिक स्वास्थ्य से संघर्ष करते हैं, उनमें अपने स्मार्टफोन के इस्तेमाल की संभावना ज्यादा होती है. वह फोन का इस्तेमाल चिकित्सा पद्धति के रूप में करते हैं. इसी तरह कम ईमानदार व्यक्ति के फोन के इस्तेमाल करने की लत ज्यादा होने की संभावना होती है.

मोटापे से ग्रस्त हैं तो आपके लिए खुशखबरी है!

ब्रिटेन के डर्बी विश्वविद्यालय में मनोविज्ञान के प्रवक्ता जहीर हुसैन ने एक बयान में कहा, “समस्या से जूझ रहे लोगों में स्मार्टफोन का इस्तेमाल पहले के विचार की तुलना में ज्यादा जटिल है और हमारे शोध में स्मार्टफोन के इस्तेमाल पर विभिन्न प्रकार के मनोवैज्ञानिक कारकों के परस्पर प्रभाव को उजागर किया गया है.”

Loading...

Check Also

यह दवा महिलाओं को सेक्स करने के लिए बना देती है पागल, खाते ही मात्र दो मिनट के अन्दर ही…

डिप्रेशन से परेशान महिलाओं में भले ही डिप्रेशन की दवा काम न करे लेकिन यह …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com