अगर आप भी शुरू करना चाहते हैं अपना बिजनेस, तो इन सरकारी योजनाओं का उठाए लाभ

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत किसी भी सरकारी बैंक, ग्रामीण बैंक, सहकारी बैंक, प्राइवेट बैंक या विदेशी बैंकों से लोन लिया जा सकता है।

Loading...

लोन के लिए ये कागजात चाहिए

अगर आप खुद का कारोबार शुरू करना चाहते हैं तो आपको मकान के मालिकाना हक या किराये के दस्तावेज, काम से जुड़ी जानकारी, आधार, पैन नंबर सहित कई अन्य दस्तावेज देने होंगे।

लोन पाने की पूरी प्रक्रिया

वेबसाइट पर लोन एप्लीकेशन फॉर्म डाउनलोड करें। शिशु लोन के लिए फॉर्म अलग है। वहीं, तरुण और किशोर लोन के लिए फॉर्म एक ही है। लोन अप्लीकेशन फॉर्म में सारी जानकारियां (मोबाइल नंबर, आधार नंबर, नाम, पता ) भरें। बिजनेस कहां शुरू करना चाहते हैं, ये भी बताएं। इसके अलावा ओबीसी, एससी / एसटी श्रेणियों के आवेदकों को जाति प्रमाण पत्र प्रदान करना होगा। साथ ही दो 2 पासपोर्ट फोटो लगेगी। फॉर्म भरने के बाद बैंक में जाएं और सभी प्रक्रियाओं को पूरा करें। अंत में बैंक का ब्रांच मैनेजर आपसे कामकाज से बारे में जानकारी लेता है और उस आधार पर आपको PMMY लोन मंजूर करता है।

स्टैंडअप इंडिया योजना

इस योजना के तहत एंटरप्रेन्योरशिप को बढ़ावा दिया जाता है। इसमें 10 लाख रुपये से एक करोड़ रुपये तक का लोन मिलता है। आप सीधे बैंक शाखा, स्टैंडअप इंडिया पोर्टल और अग्रणी जिला प्रबंधक की मदद से आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए आपको पहचान पत्र, जाति प्रमाण पत्र, देने होंगे। महिलाओं के जाति प्रमाण पत्र नहीं देना होगा। इसके साथ ही लोन आवेदक को एक प्रोजेक्ट रिपोर्ट भी देनी होगी।

सबोर्डिनेट ऋण योजना

इस योजना के तहत बिना गारंटी दिए लोन मिलेगा और आप कारोबार शुरू कर सकते हैं। भारत सरकार ने एमएसएमई यानी सूक्ष्म लघु एवं मझोले उद्योगों को प्रोत्साहन देने के लिए इस नई योजना की शुरुआत की है। इसमें अगर बैंक आपका बिजनेस प्रोजेक्ट पास कर देता है तो उस पर बैंक गारंटी देने की बाध्यता खत्म हो जाती है। सरकार ने इस योजना के लिए करीब 20 हजार करोड़ रुपये का बजट रखा है। योजना से 2 लाख एमएसएमई इकाइयों को लाभ मिल पाएगा।

प्रधानमंत्री पथ विक्रेता आत्मनिर्भर निधि कार्यक्रम

इस योजना के तहत शहरी पथ व्यावसायियों यानी स्ट्रीट वेंडर्स को कार्यशील पूंजी के रूप में बैंकों से 10 हजार रुपए का लोन उपलब्ध कराया जाएगा। योजना का लाभ देने के लिए निगम मुख्यालय और जोनल कार्यालयों पर तथा निगम की टीम द्वारा भी फार्म लेकर पोर्टल पर पंजीयन करने का कार्य किया जा रहा है। पंजीयन के लिए व्यक्ति का आधार कार्ड हो तथा आधार कार्ड से मोबाइल नंबर जुड़ा हो। वहीं, समग्र आईडी के साथ सेविंग खाते की पासबुक आवश्यक है।  

loading...
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *