18 फरवरी दिन रविवार का राशिफल: जानिए आज किसकी किस्मत के सितारे रहेंगे बुलंद

।।आज का पञ्चाङ्ग।

आप का दिन मंगलमय हो 18 फरवरी दिन रविवार

18 फरवरी दिन रविवार का राशिफल: जानिए आज किसकी किस्मत के सितारे बुलंद

ऋतु-शिशिर
माह-फाल्गुन
सूर्य-उत्तरायण
सूर्योदय-06:23
सूर्यास्त-05:37
राहूकाल(अशुभसमय)शायं
04:30से 06:00तक
तिथि-तृतीया
पक्ष-शुक्ल
दिशाशूल- नैऋत्य व पश्चिम शुभदिशा-पूर्व व उत्तर
अभिजितमुहूर्त- दोपहर 12:12 से 12:57 तक
अमृतमुहूर्त-दोपहर 11:11से 11:35तक।

।।आज का राशिफल।।

मेष :- आज आप ताजगीपूर्ण सुबह के साथ दिन का आरंभ करेंगे। घर में मित्रों और सगे-संबंधियों के आवागमन से खुशी का माहौल रहेगा। उनकी तरफ से मिली हुई आकस्मिक भेंट आपको खुश कर देगी। आज आर्थिक लाभ मिलने की भी संभावना है।
सुझाव:-आज आप बादाम का दान करें।
राशिरत्न:-मूँगा
शुभरंग:-पीला

वृष:-  आज कोई भी निर्णय लेने से पहले ठीक से विचार कर लें। किसी के साथ गलतफहमी होने की संभावना हैं। स्वास्थ्य के कारण मन उदास रह सकता है। परिवार में मतभेद से मन दुखी हो सकता है। धैर्य रखें।।
सुझाव:-आज आप मीठे चावल का दान करें।
राशिरत्न:-हीरा,ओपल
शुभरंग:-सुनहला

मिथुन:- आज आपको सामाजिक, आर्थिक तथा पारिवारिक क्षेत्र में लाभ होने का संकेत हैं।समाज में मान-प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। मित्रों की तरफ से लाभ भी होगा और उनके पीछे पैसे भी खर्च करेंगे। सुंदर जगह पर पर्यटन का आयोजन पूरे दिन को हर्षोल्लासपूर्ण बना देगा।
सुझाव:-आज काली उड़द की दाल की खिचड़ी खाएं या बातें
राशिरत्न:-पन्ना
शुभरंग:-हरा

कर्क :-  आज नौकरी व्यवसाय के क्षेत्र में उच्च पदाधिकारियों के प्रोत्साहन से आपका उत्साह दुगुना होगा। वेतन वृद्धि या पदोन्नति का समाचार मिले तो कोई आश्चर्य नहीं है। माता तथा परिवार के अन्य सदस्यों के साथ अधिक निकटता रहेगी। मान-प्रतिष्ठा में वृद्धि होने से खुश रहेंगें।
सुझाव:-आज आप हो सके तो काली उड़द की दाल दान करें
राशिरत्न:-मोती
शुभरंग:-श्वेत

सिंह:- आज आलस, थकान आपके कार्य करने की गति को प्रभावित कर सकते हैं। पेट संबंधी शिकायत अस्वस्थता का अनुभव करा सकती है। नौकरी व्यवसाय में विघ्न आ सकता है। उच्च पदाधिकारियों से आज दूर रहने में ही भलाई है।
सुझाव:-आज आप तुलसी के समीप तीन घी के दीपक जरूर प्रज्ज्वलित करें
राशिरत्न:-माणिक्य
शुभरंग:-लाल

कन्या:- आज आप संयम व धैर्य से काम करें।क्योंकि स्वभाव की उग्रता किसी के साथ मनमुटाव करा सकती है। हितशत्रु विघ्न उपस्थित कर सकते हैं,। सचेत रहें। आज नए कार्य की शुरुआत स्थगित करना उचित होगा।
सुझाव:-आज आप बेसन के लड्डडू श्री हनुमान जी को अर्पित करें।
राशिरत्न:-पन्ना
शुभरंग:-फिरोजी

तुला :-आज आप  व्यापार के साथ साथ परमार्थ के कार्य भी कर सकते हैं। विपरीत व्यक्ति के प्रति आकर्षण हो सकता है। नए परिधान बनाने का अवसर आएगा। सार्वजनिक मान-सम्मान के अधिकारी बनेंगे।
सुझाव:-आज आप चमेली के तेल व सिंदूर श्री हनुमान जी के मंदिर में दान करें।
राशिरत्न:-हीरा,ओपल
शुभरंग:-हरा

वृश्चिक:- आज के दिन कुछ आकस्मिक घटनाएं घट सकती हैं। पूर्वनिर्धारित मुलाकातें रद्द होने से हताशा और क्रोध की भावनाना पैदा हो सकती है। आपके हाथ में आए हुए अवसर हाथ में से सरकते हुए प्रतीत हो सकते हैं। पारिवारिक सदस्यों के साथ मतभेद हो सकते हैं। सतर्कता बरतें।
सुझाव:-आज आप सरसों के तेल का यथा शक्ति दान करें।
राशिरत्न:-मूँगा
शुभरंग:-केशरिया

धनु:- आज आप संतान के स्वास्थ्य और पढ़ाई के बारे में चिंतित रह सकते हैं। पेट संबंधी बीमारियां परेशान करेंगी। कार्य की असफलता आपके अंदर हताशा लाएगी। गुस्से को वश में रखे।साहित्य, लेखन तथा कला के प्रति गहरी रुचि रखेंगे।
सुझाव :-आज आप ऋतु फल का भोग प्रभू श्री सीताराम जी को अर्पित करें।
राशिरत्न:-पुखराज
शुभरंग:-पर्पल

मकर:-  आज आपके व्यक्तिगत विचार से मन चिंतित रह सकता है। परिवार के सदस्यों के साथ अनबन या तकरार की संभावना है। समय से भोजन और शांत निद्रा पर ध्यान दें। स्त्री वर्ग से सावधान रहें।
सुझाव:-आज आप भगवान शिव की उपासना करें।
राशिरत्न:-नीलम
शुभरंग:-गुलाबी

कुंभ :-आज आपका मन चिंता मुक्त अनुभव करेगा, आपके उत्साह में भी वृद्धि होगी। बुजुर्गों और मित्रों की तरफ से लाभ की अपेक्षा रख सकते हैं। स्नेहमिलन या प्रवास के माध्यम से मित्रों एवं स्वजनों के साथ आनंदपूर्वक समय व्यतीत करने का मौका मिलेगा।
सुझाव:-आज आप स्वापाव काल तिल व गुड़ शनि मंदिर में दान करें।
राशिरत्न:-नीलम
शुभरंग:-बादामी

मीन:-आज आर्थिक अर्जित करने के लिए आज शुभ दिन है। निर्धारित कार्य पूरे होंगे। आय में वृद्धि होगी। परिवार में सुख-शांति का वातावरण बना रहेगा। सुरुचिपूर्ण भोजन प्राप्त होगा। स्वास्थ्य अच्छा रहेगा तथा मन की प्रसन्नता अनुभव होगा।
सुझाव:-आज काले तिल का दान करें।
राशिरत्न:-पुखराज
शुभरंग:-केशरिया

।।आज के दिन का विशेष महत्व।।

1 आज शिशिर ऋतु फाल्गुन माह शुक्लपक्ष तृतीया तिथि है।

।।प्रेरणा दाई चौपाई।।

मागी नाव न केवट आना।
कहइ तुम्हार मरम मैं जाना।।

अर्थ:-भगवान श्री राम जी केवट से गंगापार जाने के लिए नाव लाने को कहते है किंतु केवट नाव लेकर प्रभू के पास नही आता और कहता है कि आप का मरम में जनता हूं मरम अर्थात जिसका मरम ब्रम्हा,विष्णु, शिव भी न जानते हों उसका ये सामान्य जीव क्या मरम जानेगाअगली पंक्ति में स्पष्ट किया कि आपके चरण कमल के धूलि में मनुष्य बनाने की शक्ति है इसका प्रमाण की शिला भी नारी बन गयी ये मरम केवट का था।
अनेक विद्वानों का अपना अपना भाव इस चौपाई पर विस्तार से उपलब्ध होता है।
“अस्तु कभी कभी अज्ञानी व्यक्ति का भोलापन ज्ञान वान को पसंद आता है और उसे अपने अनुकूल कर लेता है।

।।वास्तु टिप।।

रात में यदि किसी को बुरे स्वप्न आते हों तो जल से भरा ताँबें का बर्तन सिरहाने रख कर सोएं, बुरे स्वप्न नही आएंगे।

।।इति शुभम्।।

।।आचार्य स्वामी विवेकानन्द।।
।।ज्योतिर्विद, वास्तुविद व सरस् श्री रामकथा व श्रीमद्भागवत प्रवक्ता।।
।।श्रीअयोध्या धाम।।
संपर्क सूत्र-9044741252

Loading...

Check Also

#बड़ा हादसा: बहुमंजिला इमारत में लगी भीषण आग, दो व्यक्तियों की हुई मौत

#बड़ा हादसा: बहुमंजिला इमारत में लगी भीषण आग, दो व्यक्तियों की हुई मौत

देश में पिछले कुछ दिनों में भीषण आग लगने की घटनाएं बहुत तेजी से बढ़ते …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com