अयोध्या में एक बार फिर दोहराया जाएगा इतिहास, पूरे सप्ताह घर-घर जलाएंगे दीप

श्रीरामजन्मभूमि मुक्ति संघर्ष में जब-जब सफलता मिली अयोध्यावासियों का उल्लास देखने लायक होता था। कोर्ट के आदेश पर कांग्रेस सरकार में जब विराजमान रामलला का ताला खुला था तो आठ दिन तक न सिर्फ अयोध्या में बल्कि देश-विदेश में भी दीप जलाकर उत्सव मनाया गया था। 

Loading...

अब वही इतिहास अयोध्यावासी एक बार फिर दोहराना चाहते हैं। इस बार श्रीरामजन्मभूमि मंदिर के भूमि पूजन के शुभ अवसर पर प्रशासन की ओर से घोषित चार व पांच अगस्त को दीपोत्सव के बाद भी यहां के लोग एक सप्ताह तक घर-घर दीप जलाने का संकल्प ले रहे हैं।
ताला खुलने पर पूरे देश में मना था उत्सव 
श्रीरामजन्मभूमि के पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास कहते हैं कि जिस समय रामजन्मभूमि का ताला खुला था, उसके बाद पूरी अयोध्या उल्लास में डूब गयी थी। 1949 के बाद से करीब 37 साल बाद रामलला एक तरह से कैद से आजाद हुए थे, जिसकी खुशी प्रत्येक रामभक्त के चेहरे पर देखी जा सकती थी। 

करीब एक सप्ताह तक अयोध्या में दिवाली मनाई गयी थी। देश ही नहीं विदेशों में भी रामभक्तों ने इसकी खुशी मनाई थी। अब करीब 34 साल बाद एक बार फिर अयोध्या के लिए उत्सव का दिन आया है, यह 1986 से बड़ा उत्सव होगा, क्योंकि अब रामलला का दिव्य-भव्य मंदिर जो बनने जा रहा है। जिसका इंतजार रामभक्तों को सदियों से था, चिर प्रतीक्षित अभिलाषा पूरी होने की खुशी अयोध्या में देखी जा सकती है।

ड्रोन से होगी निगरानी
राम मंदिर के लिए भूमिपूजन के मौके पर प्रधानमंत्री समेत अन्य वीवीआईपी हस्तियों की मौजूदगी के मद्देनजर अयोध्या की ड्रोन से निगरानी की जाएगी। समारोह स्थल के साथ शहर के अन्य इलाकों में भी हर गतिविधि पर चौकस नजर रहेगी। सुरक्षा इंतजाम की समीक्षा करने अयोध्या पहुंचे मुख्य सचिव आरके तिवारी, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी व डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी ने वहां कोई चूक न होने देने की हिदायत दी। 

डीजीपी ने बताया कि ड्रोन से निगरानी के साथ ही रुफ टॉप पर स्नाइपर तैनात रहेंगे। इसके अलावा खुफिया विभाग व पुलिस के कर्मियों की तैनाती की गई है। सुरक्षा को लेकर व्यापक प्रबंध किए गए हैं और उच्च अधिकारियों की जिम्मेदारी तय कर दी गई है। 24 घंटे पहले ही अयोध्या की सीमा सील कर दी जाएगी। सादे कपड़ों में सुरक्षा कर्मियों का जाल फैला रहेगा। एटीएस व एसटीएफ भी सक्रिय रहेगी। जगह-जगह बैरिकेडिंग कर चेकिंग की जाएगी। हर संदिग्ध पर नजर रखे जाने के निर्देश दिए गए हैं।

loading...
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *