तेलंगाना में भारी बारिश में तबाही, 4 राज्यों में डूबे सैकड़ों घर, बह गई गाड़ियां, हजारों लोग हुए बेघर

नई दिल्ली। लगातार हो रही बारिश के कारण कई राज्यों में तबाही मची हुई है। तेलंगाना में भारी बारिश के बाद बाढ़ के हालात बदतर होते जा रहे हैं। सूबे के अलग अलग इलाकों में करीब 50 लोगों की मौत हो गई है। तेलंगाना के रामनाथपुरा में बेहद खराब हैं। शहर की सड़कें पानी में डूबी हैं और सड़क पर समंदर का नजारा है।

हैदराबाद के कई जलमग्न इलाकों में लोग अब भी फंसे हुए हैं। उन्हें सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने के लिए नाव का सहारा लेना पड़ रहा है। हैदराबाद के उस्मान नगर में पूर्व सांसद विश्वेश्वर रेड्डी खुद नाम लेकर लोगों को रेस्क्यू करते नजर आए। इस इलाके में करीब 500 घर पानी में डूबे हैं।

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने हैदराबाद में बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा किया और पीड़ितों का हाल जाना। इस बीच तेलंगाना के सीएम ने सूबे में बाढ़ के हालात को लेकर उच्च स्तरीय बैठक की, तेलंगाना सरकार के मुताबिक बाढ़ से राज्य को करीब 5 हजार करोड़ का नुकसान हुआ है। तेलंगाना सरकार ने केंद्र से मदद की मांग की है।

आंध्र प्रदेश में भारी बारिश के बाद नागार्जुन सागर बांध के 18 गेटों को खोलना पड़ा, गेट खोलने के बाद बाढ़ का पानी आसपास के इलाकों में घुस गया जिससे बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है। नागार्जुन सागर डैम के गेटों को करीब 10 फीट तक खोला गया है।

पश्चिमी महाराष्ट्र के तीन जिलों में बारिश ने जमकर कोहराम मचाया है। सोलापुर संगली और पुणे में भारी बारिश के बाद बाढ़ से अब तक 27 लोगों की मौत हो चुकी है। करीब 20 हजार लोगों को सुरक्षित स्थानों तक पहुंचाया गया है। पिछले दो दिनों से पश्चिमी महाराष्ट्र में मूसलाधार बारिश हो रही है।

पिछले दो दिनों से मुंबई में भी बारिश हो रही है। मौसम विभाग ने आज मुंबई में भारी बारिश की चेतावनी दी है। और येलो अलर्ट जारी किया है। महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने आर्मी, नेवी और एयरफोर्स को अलर्ट पर रहने के निर्देश दिए हैं। साथ ही NDRF की टीमों को ओसमानाबाद, सोलापुर, पंढरपुर और बारामती में तैनात किया गया है।

महाराष्ट्र के बारामती के सोनगांव में बाढ़ के पानी में फंसे बीस लोगों को NDRF की टीम ने रेस्क्यू किया। भारी बारिश के बाद बारामती की दो नदियां उफान पर है। दोनो नदियों का संगम सोनगाव मे है। जिसके कारण यहा जलस्तर ज्यादा बढता है। बाढ़ आई तो लोग फंस गए जिन्हें निकालने के लिए NDRF को मोर्चा संभालना पड़ा।

महाराष्ट्र का सोलापुर भी भारी बारिश से बेहाल है। एक गांव बाढ़ में जलमग्न हो गया और लोग फंस गए। जिसके बाद प्रशासन ने NDRF की टीम को बुलाया। तब जाकर कहीं लोगों को रेस्क्यू किया जा सका।

भारी बारिश के बाद बाढ़ ने महाराष्ट्र के सांगली में भी लोगो को बेहाल कर दिया है। करीब 10 परिवार पानी में फंस गए जिन्हें दमकल विभाग ने रेस्क्यू किया। लोगों को सकुशल सुरक्षित स्थानों तक पहुंचाया गया।

भारी बारिश के बाद कर्नाटक में भी बाढ़ के हालात हैं। पिछले चार दिनों से हो रही आसमानी आफत के बाद भीमा नदी उफान पर है और सूबे के उत्तरी हिस्से के कई जिले पानी में डूबे हैं। कलबुर्गी, यादगीर और रायचूर में NDRF की टीमों को तैनात किया गया है।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button