हार्दिक पांड्या का बयान अगर इस दिग्गज से मेरी तुलना बंद करें, तो मुझे बहुत खुशी होगी

- in खेल

नॉटिंघम में टीम इंडिया और इंग्लैंड के बीच खेले जा रहे तीसरे टेस्ट मैच में भारत की पकड़ मजबूत हो गई है। टीम के इस प्रदर्शन ने करोड़ों फैन्स के दिलों में मुस्कान ला दी है। तीसरे टेस्ट मैच के दूसरे दिन भारत के आलराउंडर हार्दिक पांड्या ने शानदार गेंदबाजी की। हार्दिक ने दूसरे दिन 28 रन देकर मेजबान टीम की पहली पारी में पांच विकेट झटके। 

मैच के बाद हरफनमौला खिलाड़ी हार्दिक पांड्या ने कहा कि वह दिग्गजों में शुमार कपिल देव से अपनी तुलना नहीं करना चाहते। वेबसाइट ‘ईएसपीएन’ की रिपोर्ट के अनुसार, हार्दिक चाहते हैं कि दुनिया उन्हें उनके नाम से ही जाने और वह कपिल नहीं बनना चाहते। ऐसे में दूसरे दिन अपने प्रदर्शन के बाद पांड्या ने कहा कि वह अन्य खिलाड़ियों के साथ अपनी तुलना से थक गए हैं। 

हार्दिक ने कहा, ‘‘सबसे बड़ी समस्या यह है कि आप एक खिलाड़ी की तुलना दूसरे से करते हो और अचानक अगर कुछ गलत हो जाता है, तो लोग कहते हैं कि अरे यह तो कपिल की तरह नहीं है। मैं कभी भी कपिल नहीं बनना चाहता। मुझे हार्दिक पांड्या ही रहने दें। मैं अपनी पहचान के साथ ही खुश हूं।’’

एशियन गेम्स 2018 में अपूर्वी-रवि पहुँचे एयर राइफल मिक्स्ड के फाइनल में

पांड्या ने कहा, ‘‘मैंने अभी तक अपने करियर में 40 वनडे, 10 टेस्ट मैच खेले हैं और मैं अब भी हार्दिक ही हूं, कपिल नहीं हूं। उस युग में कई दिग्गज निकले। ऐसे में मुझे हार्दिक ही रहने दें। किसी और के साथ मेरी तुलना करना बंद करें। अगर आप मेरी तुलना बंद कर देंगे, तो मुझे खुशी होगी।’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

Asia Cup 2018: अफगानिस्तान के खिलाफ इन 5 कारणों से टीम इंडिया का मैच हुआ टाई

अफगानिस्तान ने टीम इंडिया के साथ हुए एशिया कप के सुपर-4 मैच