गुरमीत राम रहीम से हॉस्पिटल में मिलने पहुंची हनीप्रीत, बनवाया अटेंडेंट का कार्ड

अपनी ही 2 साध्वियों से दुष्कर्म के आरोप में 20 साल की सजा काट रहा डेरा सच्चा सौदा चीफ गुरमीत राम रहीम कोरोना पॉजिटिव हो गया है। इसके बाद राम रहीम को दिल्ली से सटे गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल लाया गया है। इस बीच खबर आ रही है कि गुरमीत राम रहीम से मिलने के लिए उसकी मुंहबोली बेटी हनीप्रीत भी पहुंची है। जानकारी 100 फीसद सही है, लेकिन अस्पताल प्रशासन इसकी पुष्टि नहीं कर रहा है। सूत्रों के मुताबिक, हनीप्रीत सोमवार सुबह 8.30 बजे राम रहीम के हाल जानने पहुंची। इसके बाद राम रहीम के अटेंडेट के रूप में हनीप्रीत ने अपना कार्ड बनवा लिया। इलाज के लिए राम रहीम को मेदांता अस्पताल की 9वीं मंजिल पर 4643 रूम में रखा गया है। खबर है कि हनीप्रीत ने खुद  को राम रहीम का अटेंडेंट बताते हुए कार्ड बनवाया है। बता दें कि 15 जून तक के लिए हनीप्रीत को राम रहीम की देख भाल के लिए अटेंडेंट का कार्ड दिया गया है। इसके बाद हनीप्रीत रोजाना राम रहीम से मिलने उसके कमरे में जा सकती है।  यह अलग बात है कि अस्पताल प्रशासन इसकी पुष्टि नहीं कर रहा है और न ही राम रहीम की ओर से जानकारी दी गई है।

कोरोना के चलते डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम को रविवार दोपहर में मेदांता अस्पताल के कोविड वार्ड में भर्ती कराया गया है। तीन दिन पहले तबीयत खराब होने पर उसे पीजीआइ रोहतक में भर्ती कराया गया था। वहां के डॉक्टरों की सलाह के बाद उसे मेदांता अस्पताल लाया गया। फिर कोरोना की जांच की गई, जिसमें रिपोर्ट पॉजिटिव आई। उसे पैंक्रियाज में भी शिकायत है। अस्पताल की वरिष्ठ फिजिशियन डॉ. सुशीला कटारिया की देखरेख में उसका इलाज चल रहा है। 

टेस्ट करवाने में कर रहा आनाकानी

सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि राम रहीम दवाई लेने और टेस्ट करवाने में भी आनाकानी कर रहा है। ऐसे में कहा जा रहा है कि अब संभव है कि राम रहीम कोरोना से जुड़ा आरटीपीसीआर टेस्ट करवाने के लिए राजी हो जाए,  क्योंकि वह हनीप्रीत की बातों को तवज्जो देता है। बता दें कि 2 साध्वियों से दुष्कर्म के मामले में डेरा प्रमुख राम रहीम अगस्त 2017 में सजा काट रहा है। 53 साल का राम रहीम फिलहाल चंडीगढ़ से 250 किलोमीटर दूर रोहतक की हाई सुरक्षा वाली सुनारिया जेल में बंद है। गौरतलब है कि पिछले दिनों पेट दर्द की शिकायत के बाद रोहतक के पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (पीजीआईएमएस) में राम रहीम का टेस्ट हुआ था।

गौरतलब है कि आपात पैरोल मिलने के बाद पिछले दिनों ही गुरमीत राम रहीम अपनी बीमार मां से मिलने के लिए गुरुग्राम पहुंचा। राम रहीम ने अपनी मां की बीमारी के संबंध में सुनरिया जेल अधिकारियों के सामने कुछ दस्तावेज पेश किए थे, जिसके बाद जेल अधिकारियों ने बताया था कि डेरा प्रमुख ने अपनी बीमार मां नसीब कौर से मिलने के लिये 21 दिन की पैरोल मांगी थी। अब पैरोल मिलने के बाद राम रहीम गुरुग्राम में ही है।

बता दें कि राम रहीम के अलावा तीन अन्‍य दोषियों को भी पत्रकार रामचंद्र छत्र‍पति हत्‍या मामले में उम्रकैद की सजा सुनाई गई है। उन पर 50-50 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया गया है। इस सजा की खास बात यह है कि उम्रकैद गुरमीत को साध्‍वी दुष्‍कर्म मामले में दी गई 20 साल की कैद पूरी होने के बाद शुरू होगी। इस तरह राम रहीम को ताउम्र जेल में रहना होगा।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three × two =

Back to top button