Google ने खुद को चुस्त-दुरुस्त बनाने के लिए शुरू की नई पहल, कंपनी ने बनाया ये धांसू प्लान

दिग्गज टेक कंपनी Google ने खुद को चुस्त-दुरुस्त बनाने की पहल शुरू की है। जिससे Google एकाउंट के जरिए फर्जीवाड़े पर लगाम लगाई जा सकेगी। Google ने ऐलान किया कि वो इस Google एकाउंट और अन्य सर्विसेज के लिए टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन को लागू करेगा। Google साल के अंत तक 150 मिलियन (15 करोड़) यूजर्स के Google एकाउंट में टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन प्रक्रिया को लागू करने की योजना पर काम कर रहा है। यह ऑटो-इनेबल्ड टू-फैक्टर अथेंटिकेशन प्रक्रिया होगी। मतलब Google यूजर्स को अपनी तरफ से कुछ नहीं करना होगा। यह ऑटोमेटकली लागू हो जाएगा।

कैसे कर पाएगा इस्तेमाल 

टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन लागू होने के बाद यूजर्स को ऐप ओपन करके पासवर्ड सब्मिट करना होगा। उसके बाद यूजर्स को उसकी डिवाइस पर एक टेक्स्ट मैसेज भेजा जाएगा। यह एक यूनीक वन-टाइम वेरिफिकेशन कोड होगा, जिसे सब्मिट करने के बाद ही Google और उसकी अन्य सर्विस का इस्तेमाल किया जा सकेगा। Google की मानें, तो साल 2021 तक कंपनी 15 करोड़ ऑटो-इनरोल ऑथेंटिकेशन प्रोसेस के साथ ही 2 मिलियन  यानी 20 लाख YouTube क्रिएटर्स के लिए इस सर्विस को लागू किया जाएगा।

 

Google होगा पहले ज्यादा सुरक्षित 

कंपनी ने अपने ब्लॉग पोस्ट में कहा कि टू-स्टेप वेरिफिकेशन्स Google एकाउंट को सुरक्षित बनाने का सबसे कारगर रूट साबित हो सकता है। इसकी मदद से Google एकाउंट और नेटवर्क को कोई भी अनजान व्यक्ति एक्सेस नहीं कर पाएगा। दिग्गज सर्च इंजन Google की तरफ से ओरिजनली ऑटो इनरोल सर्विस को टू-फैक्टर सर्विस को इस साल मई माह में पेश किया गया था। iOS डिवाइस यूजर्स Chrome का इस्तेमाल करके ऑटोफिल सेव पासवर्ड जैसी सर्विस का इस्तेमाल कर सकेंगे। Google ने कहा कि वो जल्द ही iOS ऐप के लिए Chrome पासवर्ड जनरेशन टूल का इस्तेमाल कर पाएंगे।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one × five =

Back to top button