Gold Silver Price: भारतीय बाजारों में सोने की वायदा कीमत में आई तेजी, चांदी की वायदा कीमतों में हुई बढ़ोतरी

नई दिल्ली। कमजोर वैश्विक संकेतों के बीच आज भारतीय बाजारों में सोने की वायदा कीमत में तेजी आई। एमसीएक्स पर पिछले चार कारोबारी सत्रों में नुकसान के बाद आज सोना 0.11 फीसदी बढ़कर 50,029 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया। चांदी वायदा 0.3 फीसदी चढ़कर 61690 रुपये प्रति किलोग्राम पर पहुंच गई। पिछले सत्र में सोने की कीमत 0.7 फीसदी यानी 350 रुपये प्रति 10 ग्राम गिरी थी, जबकि चांदी में 1,000 रुपये (1.63 फीसदी) प्रति किलो की गिरावट आई थी।

वैश्विक बाजारों में इतनी रही कीमत
वैश्विक बाजारों में अमेरिकी प्रोत्साहन पैकेज पर अनिश्चितताओं के बीच आज सोने की कीमत में गिरावट दर्ज की गई। हाजिर सोना 0.2 फीसदी गिरकर 1,863.21 डॉलर प्रति औंस हो गया। अन्य कीमती धातुओं में चांदी 0.1 फीसदी गिरकर 24.06 डॉलर प्रति औंस हो गई, जबकि प्लैटिनम 0.2 फीसदी घटकर 949.88 डॉलर प्रति औंस रह गया। कोविड-19 वैक्सीन की खबरों से इस सप्ताह की शुरुआत में वैश्विक इक्विटी बाजारों को एक सर्वकालिक उच्च स्तर पर पहुंचा दिया था। लेकिन कोरोना वायरस के मामलों में वृद्धि और प्रोत्साहन पैकेज के उपायों पर अनिश्चितता के कारण कीमतों में उतार-चढ़ाव रहा।

गोल्ड ईटीएफ निवेशक लगातार बढ़त पर बने रहे। दुनिया के सबसे बड़े गोल्ड-समर्थित एक्सचेंज ट्रेडेड फंड, एसपीडीआर गोल्ड ट्रस्ट की होल्डिंग गुरुवार को 0.14 फीसदी गिरकर 1,217.25 टन रही।

इस बीच, अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) और 20 देशों के समूह ने चेतावनी दी है कि कोविड-19 के कारण लगाए जा रहे नए प्रतिबंध वैश्विक आर्थिक सुधार के लिए जोखिम है। इस संदर्भ में कोटक सिक्योरिटीज ने कहा कि आने वाले समय में सोने की कीमतें कम हो सकती हैं। सिल्वर पर कोटक सिक्योरिटीज ने कहा कि बढ़ते कोरोना वायरस के मामलों ने औद्योगिक क्षेत्र की मांग के लिए दृष्टिकोण को धीमा कर दिया है।

भारत के पास इतना है सोने का भंडार
मालूम हो कि वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल (World Gold Council) की रिपोर्ट के अनुसार मौजूदा समय में भारत के पास 653 मेट्रिक टन सोना है। इसके साथ ही सबसे ज्यागा गोल्ड रिजर्व के मामले में भारत दुनिया में 9वें स्थान पर आता है। यह उसके कुल विदेशी मुद्रा भंडार का 7.4 फीसदी है।

सोने का दूसरा सबसे बड़ा खरीदार है भारत
भारत में सोने का आयात अगस्त में बढ़कर 3.7 अरब डॉलर हो गया, जो पिछले साल इसी महीने में 1.36 अरब डॉलर था। चीन के बाद भारत सोने का दूसरा सबसे बड़ा खरीदार है। भारत में सोने पर 12.5 फीसदी आयात शुल्क और तीन फीसदी जीएसटी लगता है।

30 फीसदी कम हुई सोने की मांग: WGC
विश्व स्वर्ण परिषद (डब्ल्यूजीसी) की रिपोर्ट के अनुसार, कोरोना वायरस महामारी से जुड़े व्यवधानों तथा ऊंची कीमतों के कारण सितंबर तिमाही में भारत में सोने की मांग साल भर पहले की तुलना में 30 फीसदी कम होकर 86.6 टन पर आ गई। पिछले साल की सितंबर तिमाही में सोने की कुल मांग 123.9 टन रही थी। मूल्य के आधार पर, इस दौरान सोने की मांग पिछले साल के 41,300 करोड़ रुपये की तुलना में चार फीसदी कम होकर 39,510 करोड़ रुपये पर आ गई। 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eleven + two =

Back to top button