पिंपल से पाना है हमेशा के लिए छुटकारा तो अपनाएं ये 5 तरीके, कभी नहीं होगी समस्या

- in जीवनशैली

चेहरे को साफ रखने के लिए हम क्या कुछ नहीं करते. लेकिन, मुहांसे की वजह हमेशा चेहरा दाग-धब्बों से भरा रहता है. अगर आप भी अपने चेहरे को दमकता हुआ बनाना चाहते हैं और पिंपल फ्री स्किन चाहते हैं तो आपको कुछ आसान तरीके अपनाने होंगे. यह बिल्कुल मुश्किल नहीं है. आपको घर बैठे ही इस समस्या से छुटकारा मिल सकता है. दरअसल, मुहांसे होने से कॉन्फिडेंस में भी कमी आ जाती हैं क्योंकि उम्र के हर पड़ाव पर शरीर में हार्मोनल बदलाव होते हैं, जिससे चेहरे पर पिंपल्स हो जाते हैं. महंगे प्रोडक्ट्स, ट्रीटमेंट से त्वचा और भी खराब होती हैं, ऐसे में आयुर्वेद की मदद से चेहरे को पिंपल फ्री रखा जा सकता है.

पिंपल से पाना है हमेशा के लिए छुटकारा तो अपनाएं ये 5 तरीके, कभी नहीं होगी समस्या

1. ऑयल (चिकनाई) को करें खत्म
नींबू में मुहांसों से लड़ने के कुछ रासायनिक गुण मौजूद होते हैं, इसमें विटामिन सी की मात्रा बहुत अधिक होती हैं. नींबू का सबसे बड़ा गुण ऑयल (चिकनाई) को खत्म करने का होता हैं, क्योंकि इसके सिट्रिक एसिड होता हैं. नींबू एक नेचुरल एंटी बैक्टीरियल-एंटीसेप्टिक हैं. आपको निम्बू के रस को चेहरे पर लगाना हैं जिसके लिए आप ताजा निम्बू का रस इस्तेमाल करें. निम्बू के रस को चेहरे पर लगाने से पहले चेहरे को अच्छे से धो लें फिर इसके बाद इसे एक कॉटन की मदद से पिम्पलस के ऊपर दिन में दो-तीन बार लगाएं 20 मिनट तक लगाकर चेहरा धो लें.

2. विटामिन ए स्किन को बनाएं कोमल
पपीता एक ऐसा फल हैं जो अपने बहुत से गुणों के कारण मशहूर हैं. यह खाने के साथ-साथ मुहांसों पर लगाने के लिए भी कारगर हैं. इसमें हमारी त्वचा के लिए फायदेमंद विटामिन ए और बहुत से गुणकारी एंजाइम्स पाएं जाते हैं जो पिम्पल्स की मुश्किल को दूर करने के साथ-साथ स्किन को कोमल भी बनाता हैं. आप घर पर इसका फेस पैक बनाकर लगा सकती हैं या फिर इसका पेस्ट बनाकर पिम्पल के ऊपर 15-20 मिनट तक लगाएं और बाद में ठंडे पानी से फेस वॉश कर लें.

लड़कियों के ब्रेस्ट साइज़ से जानिए उनकी पर्सनैलिटी के ये गहरे राज़

4. नीम का रस एंटीसेप्टिक गुणों से भरपूर
नीम के रस से कोई भी चोट या घाव जल्दी ठीक हो जाता है, क्योंकि इसके पत्तों में एंटीसेप्टिक गुण पाए जाते हैं. इसलिए इसे पिंपल्स के लिए भी इस्तेमाल में लाया जाता है. इसके अंदर औषधीय गुण पाए जाने के कारण ये खून की वजह से होने वाली त्वचा की सभी प्रॉबलम्स को दूर करने में सक्षम है. इसके लिए आप नीम के पत्तों को पानी में उबालकर रख लें और ठंडा होने पर इस पानी को कॉटन के साथ पिंपल्स वाले स्थान पर लगाएं या फिर आप नीम के पत्तों को पीस कर उसमें पानी मिलाकर फेस पैक बनाकर भी चेहरे पर लगा सकते हैं.

5. एलोवेरा जूस का भी करें सेवन
एलोवेरा में इसमें 75 पोषक तत्व होने के साथ ही इसमें एंटी बैक्टीरियल और एंटी इंफ्लेमेंटरी गुण भी पाएं जाते हैं. इनसे ये पिंपल्स बैक्टीरिया से लड़ पाते हैं, इसके उपयोग के लिए एलोवेरा की पत्तियों को तोड़कर उनका छिलका उतारकर गुद्दे को अपने चेहरे पर रगड़े और इसे 15-20 मिनट तक लगा रहने दें. हमेशा ताजी तोड़ी हुई एलोवेरा की पत्तियों का ही इस्तेमाल करें या फिर आप एलोवेरा जूस का सेवन भी सुबह-सुबह कर सकते हैं.

 

You may also like

अगर आपके शरीर के इस हिस्से में होता है दर्द तो आपको होने वाला है कैंसर

कैंसर एक ऐसी अवस्था है जिसमें शरीर के