म्यूजिक प्रेमियों के लिए प्लास्टिक बबल में होंगे भविष्य के कॉन्सर्ट

दुनियाभर में होने वाले मनोरंजन और संगीत के आयोजनों पर भी कोरोना का कहर टूटा है। ऐसे में कोरोना महामारी से लड़ते हुए इन आयोजनों को दोबारा खड़ा करने के लिए कई तरह के प्रयोग किये जा रहे हैं। कहीं सोशल डिस्टेंसिंग में तहत लोगों को दूर-दूर बैठाकर कॉन्सर्ट कराने के तरीके का उपयोग हो रहा है तो कहीं सेंसरों की मदद से लोगों के हाथ सैनिटाइज करने और उनमें दूरी बरकरार रखने के प्रयोगों पर काम किया जा रहा है। ऐसा ही एक प्रयोग ओकलाहोमा में हाल ही में किया गया। यहां एक संगीत बैंड ने प्रयोग के तहत प्लास्टिक के बुलबुले में खुद को बंद कर मंच पर प्रस्तुति दी। इतना ही नहीं बल्कि दर्शकों को भी प्लास्टिक बबल में डाला गया। 

वीडियो फुटेज में दिखा अनोखा नजारा-
द फ्लेमिंग लिप्स नामक संगीत बैंड ने अपने प्रशंसकों के लिए एक कार्यक्रम का आयोजन किया। ओकलाहोमा शहर के इस समूह के सदस्यों ने खुद को अलग-अलग प्लास्टिक बबल में डाला। गायक और वादक सभी बुलबुलों के अंदर नजर आ रहे थे। कार्यक्रम के वीडियो फुटेज में 100 पिचके हुए प्लास्टिक के बुलबुले देखे गए।

इस कार्यक्रम कोरोनावायरस के कारण भविष्य में होने वाले कॉन्सर्ट का एक परीक्षण था। इसके साथ ही एक कार्यक्रम के दौरान एक म्यूजिक वीडियो भी बनाया गया ताकि भविष्य के कॉन्सर्ट की रूपरेखा के बारे में लोगों को बताया जा सके। कार्यक्रम के दौरान इस कॉन्सर्ट में 100 दर्शक भी प्लास्टिक बुलबुले के अंदर संगीत का लुत्फ उठाते नजर आएं। 

अब और इंतजार नहीं कर सकते-
ओकलाहोमा के संगीत बैंड ने इस कार्यक्रम के दौरान अपने आने वाले नए एल्बम अमेरिकन हेड एट द क्राइटेरियन के दो गानों पर प्रस्तुति दी। इस कॉन्सर्ट हॉल में 3500 हजार लोगों के खड़े होने की व्यवस्था है, लेकिन प्रयोग के दौरान सिर्फ 100 लोगों को ही वहां आने की अनुमति दी गई। बैंड के सदस्य फ्रंटमैन वाइने कोएने ने इंस्टाग्राम पर कार्यक्रम का एक क्लिप साझा किया और साथ ही कई तस्वीरें भी पोस्ट की। उन्होंने कहा, मुझे लगता है किसी ने भी मार्च में नहीं सोचा होगा कि ये इतना लंबा चलेगा।

अब आठ महीने होने जा रहे हैं। मुझे लगता है कि सभी ने सोचा होगा कि अब यह बीमारी ठीक हो जाएगा, इस महीने नियंत्रण में आ जाएगी। लेकिन अब और इंतजार नहीं किया जा सकता। बबल के इस विकल्प पर पहली बार मई में प्रयोग किया गया था। स्टीफन कोलबर्ट ने अपने शो पर इसका प्रयोग किया था। 

2004 से बबल का प्रयोग कर रहे कोएने-
कोएने 2004 से ही अपने कार्यक्रमों के दौरान प्लास्टिक बबल का इस्तेमाल कर रहे हैं। उन्होंने कहा, मुझे यह काफी पसंद है। इसके अंदर खड़े होकर आप कितने भी उत्साहित होकर चीख सकते है और इससे कोई दूसरा संक्रमित भी नहीं होगा। यह के बैरियर की तरह काम करता है जो आपको भी सुरक्षित रखता है और दूसरों को भी। यह एक सफल प्रयोग हैं और भविष्य में इसका इस्तेमाल किया जाना चाहिए। 

नहीं होती घुटन-
बैंड के अन्य सदस्य डेजी स्मिथ ने कहा, यह प्लास्टिक बबल इतना बड़ा है कि इसके अंदर घुटन महसूस नहीं होती। इसके अंदर सांस लेने में कोई दिक्कत भी नहीं होती। अगस्त में पहली बार 2500 संगीत प्रेमियों के लिए सैम फेंडर के कॉन्सर्ट का आयोजन किया गया था। यहां दर्शकों के लिए छोटे-छोटे बाड़े बनाए गए थे ताकि सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन किया जा सके। वहीं न्यूकैसल गोसफोर्थ पार्क में नॉर्थ शील्ड बैंड ने प्रस्तुति दी जिसमें छह-छह फीट की दूरी पर 500 ऊंचे प्लेटफॉर्म बनाए गए थे जिसमें एक साथ सिर्फ पांच लोग ही खड़े हो सकते हैं। 

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button