स्कूल की छत का प्लास्टर गिरने से चौथी क्लास का बच्चा गंभीर रूप से घायल

जबलपुर।सराफा स्थित महावीर चिल्ड्रन एकेडमी में चौथी कक्षा के बच्चे के सिर पर छत के प्लास्टर का एक हिस्सा गिर गया। हादसे में उसके सिर में गंभीर चोटें आई है। मलबे की जद में क्लास के 4 अन्य बच्चे भी आए, लेकिन गनीमत रही उन्हें चोटें नहीं आईं। घटना के बाद स्कूल में भगदड़ मच गई। तत्काल घटना की सूचना कोतवाली पुलिस को दी गई। जिस पर टीआई स्टाफ के साथ मौके पर पहुंचे और घायल बच्चे को अस्पताल भिजवाया।

कोतवाली टीआई राजेश मालवीय ने बताया कि स्कूल नर्सरी से आठवीं कक्षा तक है। स्कूल सुबह 7.30 से 12.30 बजे तक लगता है। स्कूल में कक्षा चौथी की क्लास लगी थी। स्कूल छूटने के कुछ देर पहले ही अचानक कक्षा चौथी के बच्चे दिव्यांश विश्वकर्मा (11) के सिर में ऊपर छत का प्लास्टर टूटकर गिर पड़ा। यह देखकर शिक्षक दंग रह गए और सभी बच्चों को क्लास के बाहर ले गए।

सूचना पर एकत्रित हो गए सभी शिक्षक और बच्चे-

प्लास्टर गिरने की सूचना मिलते ही स्कूल प्रबंधन के सभी लोग और शिक्षक मौके पर जुट गए। आनन-फानन में सभी बच्चों को क्लास से बाहर निकालकर सुरक्षित स्थान पर ले जाया गया। इस बीच बच्चों के परिजन तक यह बात पहुंची तो वे भी स्कूल में पहुंच गए। जिसके बाद हंगामा होने लगा। यह देख पुलिस ने हस्तक्षेप किया और बच्चों के परिजन को शांत कराया।

साठियां कुआं निवासी है दिव्यांश-

हादसे के बाद साठियां कुआं निवासी दिव्यांश के पिता जितेन्द्र को फोन पर मामले की जानकारी देकर स्कूल में बुलाया गया। इस दौरान पुलिस भी वहां पहुंच चुकी थी। पुलिस ने ही घायल छात्र दिव्यांश को अस्पताल में भर्ती कराया। साथ ही दिव्यांश के आगे की सीट पर बैठे 4 अन्य बच्चों को भी जांच की गई। ये बच्चे भी मलबे की जद में आ गए थे। लेकिन उन्हें चोट नहीं आई।

स्कूल में पढ़ते हैं 700 बच्चे-

स्कूल में लगभग 700 बच्चे पढ़ते हैं। स्कूल का संचालन नितिन कुमार जैन करते हैं। जबकि अनुराग गढ़वाल डायरेक्टर हैं। जिनसे स्कूल बिल्डिंग के बारे में पूछताछ की जा रही है। स्कूल की बिल्डिंग काफी पुरानी है। यहां लंबे समय से मरम्मत का कार्य भी नहीं हुआ है। टीआई कोतवाली के मुताबिक जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button