मंदिर में तोड़फोड़ और लूटपाट के सिलसिले में चार गिरफ्तार, पुलिस ने 4000 से अधिक लोगों के खिलाफ मामला किया दर्ज

किशोरगंज जिले में मंदिर में तोड़फोड़ और लूटपाट के सिलसिले में एक इमाम समेत चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार लोगों में दो नाबालिग और एक ग्रामीण डाक्टर शामिल हैं। शुक्रवार को कदीम मैझाती इलाके में काली मंदिर में हिंसक वारदात के सिलसिले में यह कार्रवाई की गई है। ईशनिंदा को लेकर अज्ञात मुस्लिम कट्टरपंथियों ने हिंदुओं के पूजा स्थलों में तोड़फोड़ की थी और हिंसा फैलाई थी।

एएनआइ के अनुसार, ढाका में शुक्रवार को सांप्रदायिक संघर्ष के सिलसिले में पुलिस ने चार हजार से अधिक ज्ञात और अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। ढाका ट्रिब्यून की रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस ने उन पर तोड़फोड़ करने, सुरक्षा कर्मियों पर हमला करने और सरकारी काम में बाधा डालने का आरोप लगाया है।

पुलिस ने पलटन, रमना और चौकबाजार पुलिस थानों में तीन मामले दर्ज किए हैं। पलटन थाने के प्रभारी अधिकारी मोहम्मद सलाउद्दीन मिया ने बताया कि करीब 2000-2500 अज्ञात लोगों के साथ 11 लोगों के नाम से मामला दर्ज किया गया है। ढाका ट्रिब्यून की रिपोर्ट के अनुसार, इस मामले में अब तक पांच गिरफ्तारियां की जा चुकी हैं।

रमना माडल थाने के प्रभारी अधिकारी मो मोनिरुल इस्लाम ने बताया कि मामले में 10 लोगों के नाम हैं जबकि अज्ञात की संख्या 1400-1500 के बीच है। बांग्लादेशी प्रकाशन ने बताया कि इस मामले में दस लोगों को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है। ढाका ट्रिब्यून की रिपोर्ट के अनुसार, चौकबाजार पुलिस थाने की निरीक्षक (जांच) तसलीमा अख्तर ने कहा कि पुलिस ने पांच लोगों को गिरफ्तार किया है और अन्य 35-40 अज्ञात लोगों पर मामला दर्ज किया है

पीटीआइ के अनुसार बांग्लादेश में कई दिनों से जारी सांप्रदायिक हिंसा की हालिया घटनाओं के बाद अल्पसंख्यक समूह ने देशभर में भूख हड़ताल करने की घोषणा की है। ढाका ट्रिब्यून अखबार की खबर के मुताबिक बांग्लादेश में विभिन्न जगह दुर्गा पूजा स्थलों पर हमले के विरोध में प्रदर्शन कर रहे लोगों पर हमले के बाद ताजा झड़प हुई और फिर देश की राजधानी से करीब 157 किलोमीटर दूर फेनी में हिंदुओं के मंदिर और दुकानों में शनिवार को तोड़फोड़ और लूटपाट की गई।

अखबार की खबर में बताया गया कि शनिवार को कुछ उपद्रवियों ने मुंशीगंज के सिराजदीखान उपजिला के राशुनिया यूनियन में दानियापरा महा शोषान काली मंदिर में छह मूर्तियों को क्षतिग्रस्त किया। इसमें बताया गया दुर्गा पूजा उत्सव के दौरान हिंदू मंदिरों पर हमलों और तोड़फोड़ के विरोध में देशभर में शनिवार को भी प्रदर्शन हुए, वहीं तोड़फोड़ की घटनाएं भी हुईं।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

19 + 10 =

Back to top button