सिर्फ तीन महीने की नौकरी के लिए उमड़ी आवेदकों की भीड़, लाठी खाने को भी मजबूर, जानिए क्या है मामला

पिछले पांच दिनों से जारी रोडवेज यूनियनों की हड़ताल के बीच चालक-परिचालक बनने के लिए शनिवार को भी बस अड्डों पर बेरोजगारों की भीड़ उमड़ पड़ी। पिछले दो दिनों में 17 जिलों में चालक-परिचालक पद के लिए 34773 आवेदन जमा हो चुके हैं। पहले दिन प्रदेश के 15 जिलों में 17408 युवाओं ने आवेदन किया है। 

जींद जिले में सर्वाधिक 8170 आवेदन जमा हुए हैं। यमुनानगर में सबसे कम 49 आवेदन जमा हुए हैं। हिसार में सैकड़ों की संख्या में युवक सुबह से जमा हो गए। इस दौरान पुलिस को युवकों को लाइन में लगाने के लिए हलका बल प्रयोग करना पड़ा। वहीं, सिरसा डिपो में एमटेक और बीटेक डिग्रीधारी बेरोजगार युवा चालक-परिचालक बनने पहुंचे। गौरतलब है कि सरकार ने प्रदेश भर के डिपुओं के लिए ड्राइवरों के 504 और कंडक्टरों के 905 पदों के लिए भर्ती निकाली है। 

चालक-परिचालक के लिए आवेदन
सोनीपत – 383
रोहतक – 2115
चरखीदादरी- 250
नारनौल – 727
जींद – 8170
कैथल- 4100
फतेहाबाद- 2042
झज्जर – 344
करनाल – 3000
सिरसा – 2797
भिवानी – 4033
हिसार – 3048
रेवाड़ी – 132
अंबाला – 1022
करुक्षेत्र – 1761
पानीपत – 800
यमुनानगर -49
कुल आवेदन -34773

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button