दिल्ली हादसाः फ्लैट में लगी भीषण आग, एक परिवार के चार सदस्‍य जिंदा जले

- in दिल्ली, राज्य

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में प्रीतमपुरा इलाके के पास कोहाट एन्क्लेव में बृहस्पतिवार देर रात एक फ्लैट में आग लग गई। आग इतनी भीषण थी कि देखते देखते इसने पूरी बिल्डिंग को अपनी चपेट में ले लिया। पति-पत्नी और उनके 2 बच्चों की आग की चपेट में आकर मौत हो गई।नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में प्रीतमपुरा इलाके के पास कोहाट एन्क्लेव में बृहस्पतिवार देर रात एक फ्लैट में आग लग गई। आग इतनी भीषण थी कि देखते देखते इसने पूरी बिल्डिंग को अपनी चपेट में ले लिया। पति-पत्नी और उनके 2 बच्चों की आग की चपेट में आकर मौत हो गई।  जानकारी के मुताबिक, अाग लगते ही फर्स्ट फ्लोर पर रहने वाला नागपाल परिवार इसकी चपेट में आ गया और परिवार के मुखिया राकेश, उनकी पत्नी टीना, बेटा हिमांशू (7 ) और बेटी श्रेया (3) साल की मौत हो गई है।  वहीं, आग बुझाने पहुंचे दमकलकर्मियों ने 3 लोगों को आग से बचाया और झुलसे लोगों को रोहिणी के अम्बेडकर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जिन तीन लोगों को दमकल कर्मियों ने बाहर निकाला, इनके नाम सरबजीत (91), ऐश्वर्या राय (26) और नीतू (54) हैं। बताया जा रहा है कि घटना के समय तीनों बिल्डिंग में ही फंसे रह गए थे।   वहीं, दमकल की 8 गाड़ियोंं ने आग पर काबू पाया, लेकिन तब तक आग काफी विकराल रूप लेकर तबाही मचा चुकी थी। हादसे में बिल्डिंग में खड़ी गाड़ियां भी पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई हैं। बताया जा रहा है कि आग बिल्डिंग के ग्राउंड फ्लोर पर लगे इलेक्ट्रिक मीटर से लगनी शुरू हुई। बिल्डिंग के गार्ड ने आग देख कर पूरी बिल्डिंग की घंटिया बजा दीं जिस को सुनकर पूरी बिल्डिंग के लोग नीचे आ गए, लेकिन नागपाल परिवार नीचे नहीं आ पाया।  दिल्ली फायर सर्विस की टीम ने नागपाल परिवार के चार सदस्यों की लाशें सीढ़ियों के पास से बरामद की हैं। इन चारों की मौत दम घुटने से हुई है। शुरुआती जानकारी के अनुसार, घर के भीतर शॉर्ट सर्किट की वजह से आग लग गई थी, जिसके चलते चार लोगों की जिंदा जलकर मौत हो गई। इस दुर्घटना की पुलिस जांच कर रही है। हालांकि, आग के कारणों का अभी पता नहीं चल पाया है। 

जानकारी के मुताबिक, अाग लगते ही फर्स्ट फ्लोर पर रहने वाला नागपाल परिवार इसकी चपेट में आ गया और परिवार के मुखिया राकेश, उनकी पत्नी टीना, बेटा हिमांशू (7 ) और बेटी श्रेया (3) साल की मौत हो गई है।

वहीं, आग बुझाने पहुंचे दमकलकर्मियों ने 3 लोगों को आग से बचाया और झुलसे लोगों को रोहिणी के अम्बेडकर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जिन तीन लोगों को दमकल कर्मियों ने बाहर निकाला, इनके नाम सरबजीत (91), ऐश्वर्या राय (26) और नीतू (54) हैं। बताया जा रहा है कि घटना के समय तीनों बिल्डिंग में ही फंसे रह गए थे। 

वहीं, दमकल की 8 गाड़ियोंं ने आग पर काबू पाया, लेकिन तब तक आग काफी विकराल रूप लेकर तबाही मचा चुकी थी। हादसे में बिल्डिंग में खड़ी गाड़ियां भी पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई हैं। बताया जा रहा है कि आग बिल्डिंग के ग्राउंड फ्लोर पर लगे इलेक्ट्रिक मीटर से लगनी शुरू हुई। बिल्डिंग के गार्ड ने आग देख कर पूरी बिल्डिंग की घंटिया बजा दीं जिस को सुनकर पूरी बिल्डिंग के लोग नीचे आ गए, लेकिन नागपाल परिवार नीचे नहीं आ पाया।

दिल्ली फायर सर्विस की टीम ने नागपाल परिवार के चार सदस्यों की लाशें सीढ़ियों के पास से बरामद की हैं। इन चारों की मौत दम घुटने से हुई है। शुरुआती जानकारी के अनुसार, घर के भीतर शॉर्ट सर्किट की वजह से आग लग गई थी, जिसके चलते चार लोगों की जिंदा जलकर मौत हो गई। इस दुर्घटना की पुलिस जांच कर रही है। हालांकि, आग के कारणों का अभी पता नहीं चल पाया है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

क्या आपको मालूम है.? ताश खेलने से ठीक होती है ये खतरनाक बीमारी

आपको सुनने में अजीब लग सकता है कि