FIR में उन्नाव पीड़िता ने इस सब बातों का किया था जिक्र, बताया था आरोपी कैसे…

 उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता ने दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में दम तोड़ दिया। इस बीच, पुलिस एफआईआर में चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं। पीड़िता ने पुलिस को बताया है कि आरोपी उसके साथ किस तरह गुलामों जैसे बर्ताव करते थे। उसे रायबरेली के एक घर में कैद रखा गया था, जहां से बाहर निकलने की भी अनुमति नहीं थी। आरोपी मनमानी करते थे और उनकी बात नहीं मानने पर युवती के साथ मारपीट होती थी। आरोपियों ने महिला के अश्लील वीडियो बनाए थे और धमकी देते थे कि वे उसे सोशल मीडिया में वायरल कर देंगे।

Loading...

हालांकि पीड़िता ने इन धमकियों की परवाह नहीं की और आरोपियों के चंगुल से निकलने के बाद उनके खिलाफ दो एफआईआर दर्ज करवाई। पहली 5 मार्च 2018 को उन्नाव के बिहार बहटा थाने में और अगले दिन रायबरेली के थाने में। पीड़िता ने मजिस्ट्रेट के सामने बताया था कि वह मुख्य आरोपी प्यार करती थी, लेकिन उसने धोखा दिया और शादी का वादा करने के नाम पर दुष्कर्म किया।

पीड़िता एक गरीब किसान परिवार से है। पीड़िता के मुताबिक, आरोपी सबस पहले उसे लालगंज ले गया, जहां दोनों के शादी करने की योजना थी, लेकिन युवक ने उसके साथ दुष्कर्म किया। वीडिया भी बनाया। इसके बाद एक जगह पर किराए के कमरे में रखा, जहां से बाहर झांकने पर भी मारा-पीटा जाता था। वह किराए का मकान भी बदलता रहता था।

उन्नाव कांड: अखिलेश ,प्रियंका का योगी सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा, कहा-आरोपितों को जल्द से…

पीड़िता ने एफआईआर में बताया है कि 19 जनवरी को उसने आरोपी पर शादी के लिए दबाव डाला। इसके बाद वह उसे रायबरेली कोर्ट ले गया और मैरिज कॉन्ट्रैक्ट बनाया, लेकिन शादी नहीं की। एक महीने रायबरेली में रखा और फिर गांव में ले आया। एक महीने बाद जब फिर मुलाकात हुई तो आरोपी ने धमकिया और कहा कि वह उसके साथ उसके परिवार वालों को भी मार डालेगा।

इसके बाद पीड़िता डर गई और रायबरेली में अपने एक रिश्तेदार के यहां रहने लगी, लेकिन आरोपी ने पता लगा लिया और शादी का वादा करके फिर ले आया और लगातार दुष्कर्म करता रहा। कई बार शिवम के भाई ने भी दुष्कर्म किया।

loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *