1 जनवरी से सभी वाहनों के लिए अनिवार्य होगा फास्टैग, 50 लाख के पार पहुंचा लेनदेन…

भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) ने शुक्रवार को कहा कि फास्टैग (FASTag) के माध्यम से टोल संग्रह की राशि रोजाना 80 करोड़ रुपये का आंकड़ा पार कर गई है। लेनदेन की संख्या के लिहाज से भी एनएचएआइ ने रोजाना 50 लाख का रिकॉर्ड बनाया है। देशभर में अब तक 2.20 करोड़ फास्टैग जारी किए गए हैं। एनएचएआइ ने कहा कि फास्टैग के माध्यम से टोल संग्रह का आंकड़ा पहली बार इस सप्ताह गुरुवार को 80 करोड़ रुपये के पार गया। उस दिन फास्टैग के माध्यम से रिकॉर्ड 50 लाख लेनदेन हुए।

परिवहन मंत्रालय ने अगले वर्ष पहली जनवरी से सभी वाहनों के लिए फास्टैग से लैस होना अनिवार्य कर दिया है। इसके साथ ही अगले वर्ष पहली अप्रैल से सिर्फ उन वाहनों को फिटनेस सर्टिफिकेट और थर्ड पार्टी बीमा सुविधाएं दी जाएंगी, जिनमें फास्टैग लगा होगा।

ऐसे में इनकी सहज उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए एनएचएआइ ने कई कदम उठाए हैं। प्राधिकरण के मुताबिक फास्टैग अपनाने के बाद टोल प्लाजा से वाहनों के गुजरने में लगने वाला समय खासा घटा है। इससे ईधन की भी बचत हो रही है।

एनएचएआइ ने कहा है कि वर्तमान में फास्टैग 30,000 से ज्यादा स्थानों पर उपलब्ध है। एनएचएआइ के सभी टोल प्लाजा पर इसकी उपलब्धता अनिवार्य की गई है, ताकि इसे वहां से खरीदा जा सके। यह अमेजन, फ्लिपकार्ट और स्नैपडील जैसे ऑनलाइन प्लेटफॉर्म से भी खरीदा जा सकता है।

इसे आसानी से रिचार्ज करने के लिए 27 बैंकों से करार किया गया है। इसके साथ ही यह भारत बिल पेमेंट सिस्टम, यूपीआइ, पेटीएम और माई फास्टैग मोबाइल एप से भी रिचार्ज किया जा सकता है।

आपको बता दें कि टोल प्लाजा से गुजरने वाले चार-पहिया वाहनों को बिना रोके हुए उनसे टोल टैक्स लेने के लिए 1 जनवरी 2021 से सभी नये और पुराने वाहनों पर FASTag होना अनिवार्य कर दिया गया है। दरअसल फास्टैग की मदद से इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट किया जा सकता है और सरकार इसके लिए काफी समय से प्रयास कर रही है।

गौरतलब है कि टोल प्लाजा पर वाहन मालिकों से कैश पेमेंट लेने में काफी समय बर्बाद होता है, साथ ही हाइवे पर जाम की स्थिति भी बन जाती है। इन सभी दिक्कतों से बचने के लिए नये साल से फास्टैग अनिवार्य कर दिया गया है।

केंद्रीय मोटर वाहन नियम, 1989 के अनुसार, 1 दिसंबर, 2017 से पहले बेचे गए चार पहिया वाहनों के पंजीकरण के लिए FASTag अनिवार्य होगा। आपको बता दें कि नेशनल हाईवे के टोल प्लाजा पर बिना फास्टैग लगे वाहन को टोल टैक्स में छूट नहीं मिलेगी। अगर वाहन चालक 24 घंटे के भीतर लौट रहे हैं और फास्टैग वाहन पर लगा है तो टोल टैक्स में 50 फीसदी छूट मिलेगी। वहीं, जिन वाहनों पर फास्टैग नहीं लगा होगा, उन्हें दोगुना टोल टैक्स भरना पड़ेगा।

 

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button