अभिनेता-फिल्म निर्माता फरहान अख्तर ने कहा कि ग्रह के संरक्षण को लेकर जागरुकता फैलाना बहुत जरूरी हो गया है क्योंकि यह वर्तमान के सबसे गंभीर मुद्दों में से एक बन चुका है. फरहान ने कहा, “ग्रह सरंक्षण उन गंभीर मुद्दों में से एक है जिसका हम सामना कर रहे हैं और अब वक्त इस बदलते परिदृश्य को लेकर जागरुकता फैलाने का है. उन्होंने कहा, “पर्यावरण प्रबंधन एक संयुक्त जिम्मेदारी है और इसे हल करने के लिए ज्यादा से ज्यादा लोगों को आगे आने और बेहतर भविष्य की ओर योगदान में साथ कार्य करने की जरूरत है.फरहान अख्तर ने लोगों से की अपील, करें ये काम ताकि बदल जाए...

पर्दे पर हम सभी एक अभिनेता को एक हीरो का किरदार निभाते देखना पसंद करते हैं. लोग भी इस तरह के मुद्दों को हराने में ‘लाइट, कैमरा, अर्थ’ अभियान की मदद कर असल जिंदगी के हीरो बन सकते हैं.” नेशनल ज्योग्राफिक ने 22 अप्रैल को पृथ्वी दिवस पर ‘लाइट, कैमरा, अर्थ’ अभियान की शुरुआत की. नेशनल ज्योग्राफिक ग्रह सरंक्षण को लेकर वैश्विक प्रतिपादक है.

नेशनल ज्योग्राफिक और फॉक्स नेटवर्क समूह इंडिया की बिजनेस अध्यक्ष स्वाति मोहन ने इस अभियान पर टिप्पणी करते हुए कहा, “‘हम लाइट, कैमरा, अर्थ’ अभियान के साथ पृथ्वी सरंक्षण के इस महत्वपूर्ण मिशन को हमारे पाठकों, प्रशंसकों और दर्शकों तक पहुंचाना चाहते हैं. हमारा मानना है कि जब बात हमारी पृथ्वी को बचाने जैसे एक मकसद की आती है तो सिर्फ एक कहानी और बताने की जरूरत है.”