यूपी में हर दिन दो लाख प्रवासी यूपी लौट रहे है हमने क्वारंटाइन सेंटरों की क्षमता 15 लाख की: CM योगी

प्रवासी श्रमिकों और कामगारों को घर पहुंचाने की व्यवस्था पर विपक्ष द्वारा उठाए जा रहे सवालों के बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दावा किया है कि देश में रिकॉर्ड बना है कि सर्वाधिक 1044 श्रमिक स्पेशल ट्रेन उत्तर प्रदेश में आई हैं।

Loading...

हर दिन दो लाख प्रवासी यूपी लौट रहे हैं। सीएम योगी ने इनकी संख्या को देखते हुए क्वारंटाइन सेंटरों की क्षमता 15 लाख करने के साथ ही सभी के रोजगार का प्रबंध करने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को अपने सरकारी आवास पर लॉकडाउन और प्रवासी श्रमिकों व कामगारों की वापसी से संबंधित व्यवस्था की समीक्षा की।

इसके बाद लोकभवन में पत्रकारों से बातचीत में अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि सीएम योगी ने एक बार फिर अपील की है कि श्रमिक-कामगार पैदल, दोपहिया और ट्रक पर बैठकर यात्रा न करें।

यह कहीं से सुरक्षित नहीं है। धैर्य रखें, सभी जरूरतमंदों तक सरकार पहुंच रही है। जिला स्तर पर उपलब्ध कराए जा रहे पल्स ऑक्सीमीटर से कोरोना संक्रमण की प्राथमिक स्तर पर जानकारी मिलने में आसानी होगी।

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए हैं कि सभी मंडलायुक्त अपने-अपने मंडल में श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के आगमन के उपरांत प्रवासी कामगारों व श्रमिकों को बस द्वारा उनके गृह जिले भेजे जाने की व्यवस्थाओं की नियमित माॅनिटरिंग करें।

इसमें जन सुविधाओं का पूरा ध्यान रखा जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश की सीमा में प्रवेश करते ही प्रवासी कामगारों व श्रमिकों को शुद्ध और गुणवत्तापूर्ण भोजन तथा पेयजल उपलब्ध कराया जाए। इसके बाद उनका स्वास्थ्य परीक्षण करते हुए उन्हें सुरक्षित व सकुशल उनके गंतव्य तक पहुंचाने की व्यवस्था की जाए।

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि ट्रेनों के अलावा हरियाणा से प्रतिदिन 400 बसों से प्रवासी कामगारों व श्रमिकों को लाया जा रहा है।

उत्तर प्रदेश में आने वाले सभी प्रवासी श्रमिक व कामगारों को रोजगार देने की व्यवस्था करनी है। सीएम ने उद्योग व एमएसएमई के अधिकारियों को प्रवासियों का स्किलिंग डाटा तैयार करने और डाटा के आधार पर उन्हेंं स्किल डेवलपमेंट प्रोग्राम का भी लाभ दिलाने का निर्देश दिया है। भविष्य में वेबसाइट व मोबाइल नंबर के आधार पर रोजगार दिलाया जा सकेगा, इसके लिए कार्ययोजना बन रही है।

कोरोना महामारी के कारण देशभर में हुए लागू लॉकडाउन के बाद से अब तक उत्तर प्रदेश में पहुंचने वाली श्रमिक स्पेशल ट्रेनों का आंकड़ा 1000 के पार पहुंच रहा है।

इसी बीच बुधवार शाम को ट्विटर इंडिया पर हैशटैग योगी की हजार ट्रेन लगातार टॉप में ट्रेंड करता रहा। यूजर ने कोविड-19 की महामारी के बाद से योगी सरकार द्वारा मजदूरों को वापस लाए जाने के लिए किए जा रहे प्रयासों की सराहना की।

श्रमिकों की घर वापसी से जुड़ी जानकारियों को ट्वीट और रीट्वीट किया। योगी आदित्यनाथ ऑफिस ने ट्वीट किया- मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि उत्तर प्रदेश सरकार अपने सभी नागरिकों की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है। अब तक प्रदेश में श्रमिक एक्सप्रेस ट्रेनों से 14 लाख से अधिक प्रवासीजन आ चुके हैं। अगले दो दिन में 206 ट्रेनें और आएंगी

loading...
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *