ENG vs NZ: ओली रॉबिनसन दूसरे टेस्ट से हो सकते हैं बाहर, जानिए पूरा मामला

नई दिल्ली. इंग्लैंड के तेज गेंदबाज ओली रॉबिनसन लॉर्ड्स में डेब्यू करने के बाद विवादों में घिर गए हैं. न्यूजीलैंड के खिलाफ रॉबिनसन ने पहली पारी में अच्छी गेंदबाजी करते हुए 75 रन देकर चार विकेट झटके. हालांकि रॉबिनसन की गेंदबाजी की जगह उनके 8 साल पुराने ट्वीट्स पर शोर मचा हुआ है.  इस गेंदबाज ने साल 2012-13 में कई नस्लवादी और सेक्सिस्ट ट्वीट किए थे जिसकी हर तरफ आलोचना हो रही है. रॉबिनसन को दूसरे टेस्ट में बाहर किया जा सकता है. इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ECB) इस मसले पर बेहद संवेदनशील है और कड़ी कार्रवाई करने को तैयार है.

‘द टेलिग्राफ’ में छपी खबर के अनुसार, बोर्ड ने रॉबिनसन के आचरण के खिलाफ जांच शुरू कर दी है. रॉबिनसन को भारत के खिलाफ भी टेस्ट सीरीज से बाहर किया जा सकता है. रॉबिनसन ने अपने पुराने ट्वीट में धर्म विशेष के लोगों का आंतकवाद से जुड़ाव बताने के लिए कुछ शब्दों का इस्तेमाल किया था. इतना ही नहीं एशियाई मूल की महिलाओं और लोगों के खिलाफ भी अपमानजनक टिप्पणी की थीं. लॉर्ड्स में डेब्यू करते ही उनका पुराना ट्वीट वायरल हो गया. इसके बाद रॉबिनसन ने ड्रेसिंग रूम में साथी खिलाड़ियों के सामने माफी मांगी.

रॉबिनसन ने मांगी माफी

रॉबिनसन ने न्यूजीलैंड के खिलाफ लॉर्ड्स टेस्ट के पहले दिन का खेल खत्म होने के फौरन बाद एक बयान जारी कर कहा कि मेरे करियर के सबसे बड़े दिन पर मैं 8 साल पहले पोस्ट किए नस्लवादी और सेक्सिस्ट ट्वीट को लेकर शर्मिंदा हूं. मैं यह स्पष्ट करना चाहता हूं कि न मैं नस्लवादी हूं और न सेक्सिस्ट. मुझे अपने किए पर पछतावा है. अगर मेरी कार्यों से किसी की भावना को ठेस पहुंचीं है, तो मैं बिना शर्त माफी मांगना चाहता हूं. मैंने बिना सोचे समझे, गैर जिम्मेदाराना ढंग से बर्ताव किया. मेरी हरकतें माफी योग्य नहीं है. क्योंकि उस समय मेरी इतनी उम्र थी कि मैं इन बातों को समझ सकूं. फिर भी, मैं माफी मांगता हूं. हालांकि ईसीबी उन्हें माफ करने के मूड में नहीं है.

इस मसले पर इंग्लैंड के सहायक कोच ग्राहम थोर्प ने कहा, “उन्हें ड्रेसिंग रूम से सॉरी कहना पड़ा, उन्होंने जो किया उसके लिए उन्हें दुनिया से सॉरी कहना पड़ा. यह उसके लिए बहुत कठिन है लेकिन वह जानता है कि उसने गलतियां की हैं. तो दिन के अंत में, इसलिए उन्हें माफी मांगनी पड़ी. लेकिन हमारे ड्रेसिंग रूम में हमें उनका भी साथ देना था.” थोर्प ने दूसरे दिन रॉबिनसन की गेंदबाजी की प्रशंसा की, जब उन्होंने कॉलिन डी ग्रैंडहोम और काइल जेमिसन का विकेट झटका.

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 × 1 =

Back to top button